PM मोदी का राष्ट्र को संदेश, ‘त्योहारों में लापरवाही नहीं, खुशियों के लिए दो गज की दूरी, हाथ धोना जरुरी’

PM मोदी का राष्ट्र को संदेश, 'त्योहारों में लापरवाही नहीं, खुशियों के लिए दो गज की दूरी, हाथ धोना जरुरी'

नई दिल्ली: PM नरेन्द्र मोदी ने त्यौहारों के मौके पर देशवासियों से कोरोना के खिलाफ लड़ाई में सतर्कता बरतने की अपील की है। मंगलवार को प्रधानमंत्री ने राष्ट्र के नाम संदेश में कहा कि ‘देशवासियों ने जनता कर्फ्यू से लेकर अब तक लंबा सफर तय किया है। समय के साथ आर्थिक गतिविधियों में तेज़ी आ रही है। अधिकांश लोग फिर से जीवन को गति देने के लिए घरों के बाहर निकल रहे हैं और त्यौहारों के मौसम में रौनक लौट रही है। लेकिन हमें नहीं भूलना है कि लॉकडाउन भले चला गया हो लेकिन वायरस अभी गया नहीं है। बीते सात-आठ महीनों में प्रत्येक भारतीय के प्रयास से देश जिस संभली हुई स्थिति में हैं उसे बिगड़ने नहीं देना। उसमें सुधार करना है।’

जब तक दवाई नहीं तब तक ढिलाई नहीं – मोदी

PM मोदी ने कहा कि ‘एक कठिन समय से निकलकर हम आगे बढ़ रहे हैं, थोड़ी सी लापरवाही हमारी गति को रोक सकती है। जीवन की जिम्मेदारियों को निभाना और सतर्कता बरतना ये दोनों साथ चलेंगे तभी जीवन में खुशियां बनी रहेंगी। याद रखिए जब तक दवाई नहीं तब तक ढिलाई नहीं।’

ये भी पढ़ें : शिखर ने पूरे किये आईपीएल में 5000 रन, ये कारनामा करने वाले पांचवे बल्लेबाज

मामले कम होने के बाद अचानक फिर बढ़ रहे

PM नरेंद्र मोदी ने कहा कि कोरोना चला गया है ऐसा मान लेने का समय अभी नहीं आया है। उन्होने कहा कि जब तक कोरोना की वैक्सीन नहीं आ जाती तब तक कोरोना के खिलाफ लड़ाई को रत्ती भर भी कम नहीं होने देना है। उन्होने कहा कि यूरोप के कई देशों में कोरोना के मामले कम होने के बाद अचानक फिर बढ़ रहे हैं। इसलिए जब तक कोरोना के खिलाफ पूरी सफलता नहीं मिल जाती तब तक स्थिति को बिगड़ने नहीं देना है बल्कि इसमें सुधार करना है।

जनसंख्या पर करीब साढ़े पांच हज़ार लोगों को कोरोना

प्रधानमंत्री ने कहा कि ‘देश में भारत में प्रति दस लाख की जनसंख्या पर करीब साढ़े पांच हज़ार लोगों को कोरोना हुआ है वहीं अमेरिका और ब्राजील जैसे देशों में ये आंक़ड़ा 25 हज़ार के करीब है। देश में कोरोना की मृत्यु दर प्रत्येक दस लाख लोगों में 83 है जबकि अमेरिका , ब्राजील स्पेन ब्रिटेन जैसे देशों में ये छ सौ के पार है। दुनिया के साधन संपन्न देशों की तुलना में भारत अपने नागरिकों का जीवन बचाने में सफल हो रहा है।’

PM मोदी बोले टीके के लिए देश के कई वैज्ञानिक जी जान से जुटे

उन्होने कहा कि ‘कोविड महामारी के दौरान सेवा परमों धर्म पर चलते हुए ड़ॉक्टरों, नर्सों और सुरक्षाकर्मियों समेत कई लोग निस्वार्थ सेवा कर रहे हैं। उन्होने कहा कि कोरोना के टीके के लिए देश के कई वैज्ञानिक जी जान से जुटे हैं। इनमें कई वैक्सीन अपने निर्माण के अँतिम चरण में है। कोरोना की वैक्सीन आते प्रत्येक नागरिक तक इसको पहुंचाने की तैयारी सरकार कर रही है।’

प्रधानमंत्री ने कहा कि ‘त्यौहारों के समय हमारे जीवन में खुशियों का समय है ऐसे में थोड़ी सी लापरवाही खुशियों को धूमिल कर सकती है। इसलिए दो गज की दूरी, हाथ धोना और मास्क लगाने का ध्यान रखना ज़रूरी है। उन्होने देशवासियों से आग्रह किया कि कोरोना से बचाव के लिए जागरुकता बढ़ाएं। उन्होंने देशवासियों को नवरात्रा, दशहरा, ईद, दीपावली, गुरुनानक जयंती, छठ पूजा की बधाई भी दी।’

Related Articles