शायर मुनव्वर राना ने दिया बेतुका बयान, वाल्मीकि से तालिबान की तुलना, FIR दर्ज

लखनऊ: राजधानी लखनऊ के रहने वाले मशहूर शायर मुनव्वर राना अक्सर बयानों की चर्चा में बने रहते है। वो आये दिन बेतुके बयानबाजी करते रहते है। एक बर्फ फिर उन्होंने बेतुका बयान दिया है, मुनव्वर राना ने इस बार महर्षि वाल्मीकि की तुलना तालिबान से कर दी है। उनके इस बयान से मशहूर शायर मुनव्वर राना की मुश्किलें बढ़ गई हैं।

वाल्मीकि की तुलना तालिबान से करने के मामले में मुनव्वर राना पर लखनऊ के हजरतगंज थाने में एफआईआर दर्ज की गई है। इसके अलावा उनपर एससी/एसटी एक्ट के तहत हजरतगंज थाने में मुकदमा दर्ज किया गया है। आंबेडकर महासभा ने एफआईआर दर्ज करने की मांग करते हुए तहरीर दी थी।

मुनव्वर राना द्वारा तालिबान और महर्षि वाल्मीकि की तुलना करने के बयान पर आंबेडकर महासभा भड़क गए और इस बयान पर नाराजगी जताई है। अखिल भारत हिंदू महासभा और सामाजिक सरोकार फाउंडेशन ने इस मामले में हजरतगंज में तहरीर दी है जिसके बाद मुकदमा दर्ज किया गया है। एससी/एसटी एक्ट के अलावा 153-ए, 295-ए और 505 1-बी के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है।

शायर मुनव्वर ने क्या कहा था?

तालिबान को लेकर पूछे गए सवाल पर शायर मुनव्वर राना ने विवादित बयान देते हुए कहा था कि तालिबान उतने ही आतंकी हैं, जितने रामायण लिखने वाले वाल्मीकि हैं।तालिबान आतंकी संगठन है या नहीं जब ये सवाल उनसे पूछा गया तो मशहूर शायर ने बताया कि अगर वाल्‍मीकि रामायण लिखते हैं तो वह देवता हो जाते हैं, उससे पहले वह डाकू थे। आदमी का किरदार बदलता रहता है।

 

Related Articles