IPL
IPL

सोशल मीडिया पर पुलिस की करतूत वायरल, रुद्राक्ष बेचने पर महिला के साथ…

वाराणसी: उत्तर प्रदेश की योगी सरकार की पुलिस वाह वाही लूटने में कम और अपनी फजीहत कराने के मामले में काफी आगे है। बीते सोमवार (आठ मार्च) को अभी अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस (International Women’s Day) मनाया गया और योगी सरकार मिशन शक्ति अभियान महिलाओं के सम्मान और सुरक्षा की बात कहती रहती है। लेकिन जिनके हाथों में देश की महिला (Women) की सुरक्षा की जम्मेदारी है, वही आज महिला के हाथ कुचलते नजर आ रहे है। ताजा मामला महादेव की नगरी काशी का है और गुरुवार को महाशिवरात्रि पर सड़क किनारे रुद्राक्ष बेच रही महिला का पुलिस हाथ कुचलते दिखाई दें रही है।

पूरा मामला

जानकारी के मुताबिक, वाराणसी के गोदौलिया स्थित दूध सट्टी के पास में आज गुरुवार को महाशिवरात्रि पर शिव भक्तो का हुजूम देखकर एक महिला सड़क किनारे बैठकर रुद्राक्ष सहित कई तरह की मालाएं बेच रही थी। तभी दशाश्वमेध थाने का हेड कांस्टेबल सुधीर कुमार सिंह वहां पहुंचा और महिला को माला सहित सारा सामान उठाकर वहां से हटने के लिए कहा। बस सिपाही के हड़काते है महिला वहां से अपना सामान बटोरने लगी इस दौरान महिला को देरी हुई सामान उठाने में तो सिपाही भड़क गया और उसकी मालाओं व उसके हाथ को अपने बूटों से रौंद डाला।

ये भी पढ़ें : लोक सेवा आयोग की परीक्षा क्यों टली? राज्य सरकार ने बताई बड़ी वजह

एसएसपी ने लिया एक्शन

पुलिस के इस हरकत को देखर बेबस महिला रोने लगी। पुलिस द्वारा इस करतूत की फोटो मौके पर किसी ने खिंच ली। इसके बाद इस तस्वीर को सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। तस्वीर वायरल होते है कि वाराणसी एसएसपी अमित पाठक ने इस मामले को संज्ञान में लेकर सिपाही को तत्काल प्रभाव से लाइन हाजिर कर उसके खिलाफ विभागीय जांच का आदेश दिया हैं। वहीं, सिपाही की इस करतूत से आज सभी के दिलो को काफी आघात पहुंचा है सोशल मीडिया पर लोग पुलिस की आलोचना कर रहे है।

ये भी पढ़ें : कोरोना संकट की मार झेल रही ये ऑटो कंपनी, कई अध‍िकारियों को दिखाया बाहर का रास्ता

Related Articles

Back to top button