लखनऊ: पैदल मार्च करने पहुंची मुनव्वर राणा की बेटी को परिवर्तन चौक से पुलिस ने किया अरेस्ट

अभी कुछ समय पहले ही कांग्रेस में शामिल हुई मशहूर शायर मुनव्वर राणा की बेटी उरूशा राणा को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। उरूशा राणा लखनऊ के परिवर्तन चौक पर प्रदर्शन करने के लिए आई थी।

लखनऊ: अभी कुछ समय पहले ही कांग्रेस में शामिल हुई मशहूर शायर मुनव्वर राणा की बेटी उरूशा राणा को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। उरूशा राणा लखनऊ के परिवर्तन चौक पर प्रदर्शन करने के लिए आई थी परन्तु प्रदर्शन से पहले ही पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया। उरूशा राणा कांग्रेस कार्यकर्ताओं के साथ परिवर्तन चौक से विधानसभा तक पैदल प्रदर्शन में शामिल होने आई थी। इससे पहले की प्रदर्शन शुरू होता पुलिस ने सभी कार्यकर्ताओं को गिरफ्तार कर लिया।

कांग्रेस महिला कमेटी की उपाध्यक्ष हैं उरूशा राणा

महिला सुरक्षा और किसानों के मुद्दे को लेकर उरूशा राणा परिवर्तन चौक से प्रदर्शन करने वाली थी। मुनव्वर राणा की बेटी उरूशा राणा कांग्रेस पार्टी में महिला विंग की उपाध्यक्ष भी हैं। इस प्रदर्शन के लिए परिवर्तन चौक पर कांग्रेस की महिला टीम की अध्यक्ष ममता चौधरी और जिला के कांग्रेस कमेटी के अध्यक्ष वेद प्रकाश त्रिपाठी भी मौजूद थे। पुलिस ने इन लोगों को भी गिरफ्तार कर लिया।

लखनऊ के परिवर्तन चौक से विधानसभा तक पैदल प्रदर्शन

गौरतलब है कि कांग्रेस पार्टी ने परिवर्तन चौक से विधानसभा तक पैदल मार्च निकालने का निर्णय लिया था। जिसका मुद्दा महिलाओं की सुरक्षा और किसानों की परेशानियां थी। इसके लिए ही परिवर्तन चौक पर कांग्रेस कार्यकर्ता इकट्ठा हो रहे थे। वहीं से सब कांग्रेस के कार्यकर्ता पैदल विधानसभा की तरफ चलते।

उरूशा राणा पिछले महीने ही कांग्रेस पार्टी की सदस्य बनी हैं। कांग्रेस पार्टी में शामिल होने के बाद इन्हें कांग्रेस महिला कमेटी का उपाध्यक्ष पद भी दिया गया। मुनव्वर राणा की दूसरी बेटी फौजिया राणा भी अभी कुछ समय पहले ही कांग्रेस पार्टी में शामिल हुई थी।

उरूशा ने किया था सीएए का विरोध

मुनव्वर राणा की दोनो बेटियां उरूशाराणा और फौजिया राणा संसद में नागरिकता संसोधन कानून पारित होने के बाद से चर्चा में आई थी। इन दोनों बहनों ने नागरिकता संसोधन कानून का खुलकर विरोध किया था और उसके खिलाफ कई प्रदर्शनों में भाग भी लिया था।

ये भी पढ़ें : अफगानिस्तान सेना ने हमले की योजना बना रहे छह आतंकवादियों को किया ढेर

Related Articles

Back to top button