पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर ने तैयार किया मास्टर प्लान, टप्पेबाजी पर लगेगी लगाम

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में बढ़ रही टप्पेबाजी की घटनाओं को रोकने के लिए पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर (Commissioner DK Thakur) द्वारा एक मास्टर प्लान तैयार किया गया है। दावा किया जा रहा है इस मास्टर प्लान से टप्पेबाजी की घटनाओं पर विराम लगेगा और इस तरह की घटनाओं में कमी भी देखने को मिलेगी। टप्पेबाजी की घटनाओं को रोकने के लिए पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर (Commissioner DK Thakur) की तरफ से निर्देश हुए हैं कि सभी थाना क्षेत्रों में पड़ने वाले पार्क के आस-पास पुलिस फोर्स को तैनात किया जाएगा। इससे पार्कों के आस-पास पुलिस को सक्रिय देख टप्पेबाजी की घटना करने वाले अपराधियों में पुलिस का डर दिखेगा।

जानें क्या है निर्देश

जानकारी के मुताबिक पिछले 7 से 8 सालों से टप्पेबाजी करने वाले अपराधियों की सूची बनाने के लिए सभी थाना प्रभारियों को निर्देशित किया गया है। साथ ही उन अपराधियों पर निगाह रखने के लिए उनकी सूची तैयार की जा रही है। इसके अलावा यह बताया गया है कि कमिश्नरी में आने वाले सभी थाना क्षेत्रों में पड़ने वाले पार्कों के आस-पास अतिरिक्त पुलिस बल तैनात किया जायेगा। यह पुलिस उन अपराधियों पर निगाह रखेगी, जिनके नाम इस सूची में शामिल हैं।

पुलिस कमिश्नर ने बताया कि राजधानी में आये दिन टप्पेबाजी की घटनाएं सामने आ रही हैं, जिसको रोकने के लिए एक प्लान तैयार किया जा रहा है। इस प्लान में एक्स्ट्रा पुलिस फोर्स को पार्कों के आस-पास लगाया जाएगा इस प्लान के तहत गैर राज्यों से आकर लखनऊ में टप्पेबाजी की घटना को अंजाम देने वाले आरोपियों की एक सूची तैयार की गई है। ये अपराधी सड़कों पर कभी मीडियाकर्मी तो कभी पुलिसकर्मी बनकर लोगों को अपनी बातों में उलझाकर उनके साथ टप्पेबाजी की घटना को अंजाम देते हैं। साथ ही उन्होंने जनता से एक अपील भी की है कि अगर इस तरह का कोई भी मामला सामने आता है तो सीधा इसकी शिकायत करें और उनके झांसे में न आये।

यह भी पढ़ें: कंगना रनौत ने ‘धाकड़’ में एक्शन सीन के लिए टीम को सराहा

 

Related Articles

Back to top button