सड़क हादसे में मृतक दारोगा के शव को पुलिस कमिश्नर ने दिया कंधा

लखनऊ पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडेय ने शोकाकुल परिजन से फोन पर बात की और शव को सम्मान के साथ विदाई देने को निर्देशित किया।

लखनऊ। यूपी की राजधानी लखनऊ के पीजीआई थाने में तैनात घायल दरोगा की आज रविवार दोपहर इलाज के दौरान मौत हो गई। इसकी सूचना लगते ही मौके पर लखनऊ पुलिस कमिश्नर सुजीत पांडेय ने शोकाकुल परिजन से फोन पर बात की और शव को सम्मान के साथ विदाई देने को निर्देशित किया। लखनऊ रिजर्व पुलिस लाइन से दरोगा के शव को अंतिम संस्कार के लिए ले जाया गया। वहीं अंत्येष्टि के समय पुलिस कमिशनर सुजीत पांडेय भी मौजूद रहे।

इसी दौरान जब शव को अंतिम संस्कार के लिए ले जाया गया तो कमिशनर सुजीत पांडेय ने भी कंधा दिया, कमिशनर की इस प्रतिक्रिया ने अधिकारी और अधीनस्थ के बीच मानवता के साथ ही सकरात्मक छवि पेश की। कमिशनर के इस समर्पण ने सभी पुलिसकर्मियो को अभिभूत कर दिया, पीड़ित परिजन भी उनके इस सम्मान को देखकर खुद को रोक न पाए और फफक कर रो पड़े।

ये भी पढ़े : एसटीएफ ने इनामी लुटेरे को प्रयागराज से किया गिरफ्तार, बदमाश पहुंचे जेल

शनिवार को हुआ हादसा

आपको बता दे कि बीते शनिवार को हाईकोर्ट से लौटने के दौरान 50 वर्षीय सब इंस्पेक्टर रवींद्र नाथ को एक अज्ञात वाहन ने टक्कर मार दी थी। टक्कर इतनी भयानक थी कि वह बाइक से छिटक कर दूर गिर पड़े और अचेत हो गए। सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस ने उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया था जहां उनका इलाज चल रहा था। वही आज रविवार दोपहर उनकी मौत हो गई। वृन्दावन योजना सेक्टर 9 मामा चौराहे पर अज्ञात तेजर रफ्तार वाहन ने बाइक मे जोरदार टक्कर मार दी थी, मौके पर पहुंचे इंस्पेक्टर पीजीआई ने उन्हें पास के ही निजी अस्पताल पहुंचाया था और उनके परिजनों को सूचना दी थी।

ये भी पढ़े : उप्र में 19 सेतुओं के निर्माण कार्यों के लिए 19 करोड़ से अधिक की धनराशि अवमुक्त

पीजीआई इंस्पेक्टर कण्व कुमार मिश्र ने बताया

इस संबंध में पीजीआई इंस्पेक्टर कण्व कुमार मिश्र ने बताया कि सब इंस्पेक्टर रवींद्र नाथ को दुर्घटना में गंभीर चोट लगी थी। उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया था, पैर में फैक्चर है और चोटें भी आईं थी। लेकिन देर रात उनकी हालत गंभीर हो गई थी. सुबह सबइंस्पेक्टर रविन्द्र नाथ ने अस्पताल में आखरी सांस ली।

Related Articles

Back to top button