बलात्कारियों पर पुलिस का शिकंजा, दलित महिला के रेप का मुख्य आरोपी गिफ्तार

नोएडा: उत्तर प्रदेश के गौतम बौद्ध नगर जिले की पुलिस ने तीन दिन पहले जेवर में एक 55 वर्षीय दलित महिला के साथ सामूहिक बलात्कार के मामले में मुख्य आरोपी को बुधवार को गिरफ्तार कर लिया है। महिला के साथ कथित तौर पर चार लोगों ने बलात्कार किया, जो उसे बंदूक की नोक पर उसके गांव के पास खुले मैदान में ले गए और रविवार की सुबह उसके साथ जबरदस्ती करने लगे।

इनमें से एक आरोपित को सोमवार को गिरफ्तार कर लिया गया। उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री मायावती की बसपा और कांग्रेस जैसे विपक्षी दलों के साथ महिला सुरक्षा के मुद्दे पर उत्तर प्रदेश में भाजपा सरकार पर निशाना साधने के साथ यह घटना राजनीतिक विवाद में बदल गई है।

पुलिस प्रवक्ता ने बताया कि, “आरोपी महेंद्र को बुधवार को जेवर में उसके गांव के पास से गिरफ्तार किया गया। उसे जेवर पुलिस, स्पेशल ऑपरेशंस ग्रुप और स्वाट की संयुक्त टीम ने उठाया।” उन्होंने कहा, “घटना के मद्देनजर महेंद्र की गिरफ्तारी की सूचना देने पर 25,000 रुपये के इनाम की घोषणा की गई थी, जिसमें एक अन्य व्यक्ति को पहले ही गिरफ्तार कर जेल भेजा जा चुका है।”

पुलिस ने बताया कि घटना के संबंध में भारतीय दंड संहिता की धारा 376 डी (सामूहिक बलात्कार), 352 (गंभीर उकसावे के अलावा हमला या आपराधिक बल के लिए सजा) और 506 (आपराधिक धमकी) के तहत मामला दर्ज किया गया है।

उन्होंने कहा कि इस मामले में कड़े अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति (अत्याचार निवारण) अधिनियम, 1989 के तहत भी धाराएं लगाई गई हैं। पुलिस के अनुसार महेंद्र पर पूर्व में भी घर में घुसने और चोरी करने का मामला दर्ज किया गया था।

Related Articles