देह व्यापार के गोरखधंधे में लिप्त मां-बेटे को पुलिस ने किया गिरफ्तार, हुए कई शर्मनाक खुलासे

देहरादून। एंटी ह्यूमन ट्रैकिंग की विकासनगर यूनिट की टीम ने देह व्यापार में लिप्त मां और बेटे को गिरफ्तार किया। आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया। पुलिस ने इनके चंगुल से दो युवतियों को मुक्त कराया।

sex racket

कोतवाली के प्रभारी निरीक्षक प्रवीण कोश्यारी ने बताया कि एंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग की टीम को सूचना मिली कि देहरादून में मंजू नाम की महिला कुछ युवतियों को दिल्ली से लाकर ऋषिकेश, देहरादून और हरिद्वार में देह व्यापार करवाती हैं। पुलिस को सूचना मिली कि मंजू और और उसका बेटा एक कार से लड़कियों को देह व्यापार कराने के लिए देहरादून ले जाने वाले है।

पुलिस ने देहरादून मार्ग स्थित नटराज चौक पर वाहनों की चेकिंग शुरू की और आरोपी मां—बेटे को धर दबोचा। कार में तीन महिलाएं और एक युवक सवार था। जांच में युवक और महिला के देह व्यापार में संलिप्त होने की पुष्टि हुई। इसके साथ ही टीम को कार से आपत्तिजनक वस्तुएं भी बरामद हुई हैं।

प्रभारी निरीक्षक प्रवीण कोश्यारी ने बताया कि इस धंधे में लिप्त युवतियां दिल्ली और पश्चिम बंगाल की निवासी हैं, उनकी उम्र लगभग 30 वर्ष है।

पीड़ित महिलाओं ने पूछताछ में बताया कि आरोपी महिला ने उन्हें एक साल पूर्व नौकरी देने का वादा किया था, लेकिन नौकरी की बजाए वह उनसे देह व्यापार कराने लगी। फिलहाल पुलिस ने महिलाओं को नारी निकेतन भेज दिया है और आरोपियों को शुक्रवार को न्यायालय में पेश किया जाएगा।

Related Articles