भड़काऊ भाषण देने के आरोप में जिग्नेश और उमर के खिलाफ सर्च वारंट जारी

0

मुंबई। महाराष्ट्र में जातीय हिंसा के बाद राज्य सरकार ने मुंबई में प्रस्तावित दलित नेता जिग्नेश मेवानी और जेएनयू के छात्र उमर खालिद के कार्यक्रम को रद्द कर दिया था। अब उनके खिलाफ जुहू पुलिस ने सर्च वारंट जारी किया है।

आपको बता दें कि मुंबई के भाईदास हॉल में छात्र भारती नाम के संगठन ने गुरुवार (4 जनवरी) को ने जिग्नेश और उमर को कार्यक्रम में बुलाया था। लेकिन जातीय हिंसा के वजह से मुंबई पुलिस ने उनका कार्यक्राम रद्द कर दिया था। छात्र भारती नाम के संगठन ने भाईदास हॉल को अपने संगठन के ऑल इंडिया समिट के लिए रिजर्व किया था।

इस कार्यक्रम को रद्द करने करने पर पुलिस का कहना है कि मुंबई में बंद के बाद उत्पन्न तनाव के हालात को देखते हुए कार्यक्रम की इजाजत नहीं दी गई। मुंबई छात्र भारती के अध्यक्ष सचिन बनसोड़े ने कहा कि सरकार पुलिस के बल पर छात्रों की आवाज को दबाना चाहती है।

पुलिस के इनकार के बाद भी लोग इस समिट के लिए अड़े रहे। ऐसे में छात्रों और पुलिस में झड़प भी हुयी। पुलिस ने एहतियातन कई लोगों को हिरासत में  लिया है। बता दें कि महाराष्ट्र में जातीय हिंसा को भड़काने के आरोप में पुणे पुलिस ने गुजरात के विधायक जिग्नेश मेवानी और जेएनयू छात्र उमर खालिद के खिलाफ FIR दर्ज कर लिया है।

loading...
शेयर करें