10वें दिन पुलिस ने बरामद की डॉक्टर की लाश, इस कागज से हो सकी शिनाख्त, पढ़िए ये खबर

तिहरे हत्याकांड के हत्यारोपी का शव पुलिस ने बरामद कर लिया है.

कानपुर. कानपुर के कल्याणपुर में हुए तिहरे हत्याकांड के हत्यारोपी का शव पुलिस ने बरामद कर लिया है. कल्याणपुर के डिविनिटी होम्स अपार्टमेंट में पत्नी और दो बच्चों की हत्या कर फरार चल रहे डॉक्टर का शव पुलिस ने वारदात के 10वें दिन जाजमऊ गंगा पुल के पास से बरामद किया. बताया जा रहा है कि डॉक्टर की जेब से उसका पर्स मिला. इसमें परिचय पत्र, आधार, एटीएम कार्ड और कुछ पैसे थे. दो पत्ते नशीली गोलियां भी बरामद की गईं. बहरहाल, पुलिस ने शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है.

 

अटल घाट पर मिली थी आखिरी लोकेशन

 

बता दें कि कानपुर के निजी मेडिकल कॉलेजमें फॉरेंसिक मेडिसिन विभाग के प्रमुख डॉक्टर ने सुशील कुमार शुक्रवार को कल्याणपुर स्थित फ्लैट में अपनी पत्नी, बेटे और बेटी की हत्या कर दी थी. इसके बाद अपने जुड़वां भाई सुनील को मैसेज भेजकर घटना के बारे में पुलिस को सूचित करने के लिए कहा. पुलिस जब उनके घर पहुंची तो वहां सुशील कुमार की पत्नी चंद्रप्रभा, इंजीनियरिंग की पढ़ाई कर रहा बेटा शिखर सिंह, हाईस्कूल की छात्रा बेटी खुशी सिंह के खून से लथपथ शव मिले. वहीं, घटना के बाद डॉ. सुनील गंगा के अटल घाट पर देखा गया था लेकिन उसके बाद से लापता था. पुलिस गंगा में ही तलाश कर रही थी क्योंकि आखिरी लोकेशन सरसैया घाट पर मिली थी.

 

पत्नी और दो बच्चों की हत्या की थी

इससे पहले कानपुर के पुलिस आयुक्त असीम अरुण ने बताया कि ऐसा लगता है कि डॉक्टर मानसिक रूप से काफी परेशान था. चंद्रप्रभा को हथौड़े से मारा गया था, जबकि शिखर और खुशी की गला घोंटकर हत्या की गई थी. उन्होंने बताया कि पहली नजर में ऐसा लगता है कि पीड़ितों को बेहोश करने के लिए चाय में नशीली दवा मिलाई गई थी.

 

यह भी पढ़ें- सपा को मिला पूर्वांचल में बड़े ब्राह्मण परिवार का साथ, बाहुबली हरिशंकर तिवार बेटों संग सपा में शामिल

(Puridunia हिन्दी, अंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब  पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)…

Related Articles