राजनेताओं का दल-बदल जारी, ये विधायक दे सकती हैं आम आदमी पार्टी को झटका

0

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव से पहले राजनेताओं का दल-बदल जारी है इसी बीच चुनाव से पहले आम आदमी पार्टी को बड़ा झटका लग सकता है. आम आदमी पार्टी से असंतुष्ट विधायक अलका लांबा ने कहा है कि अगर कांग्रेस पार्टी में शामिल होने के लिए उनसे संपर्क किया जाता है तो वह प्रस्ताव पर विचार करेंगी. उन्होंने यह भी कहा कि आगामी कुछ दिनों में दिल्ली में कांग्रेस और आप के बीच गठबंधन की संभावना है.अलका लांबा ने कहा, ‘अगर कांग्रेस से उनको कांग्रेस में आने का न्योता मिला तो विचार करेंगी’।

अलका लाम्बा के इस फैसले पर कांग्रेस से भी जवाब आ गया है, कांग्रेस के दिल्ली प्रभारी पीसी चाको ने शुक्रवार को कहा कि आम आदमी पार्टी विधायक अलका लांबा के वापस कांग्रेस में आने पर उनकी पार्टी उनका हमेशा स्वागत करेगी. चाको ने कहा, ‘हम हमेशा उनका स्वागत करेंगे क्योंकि वह हैं तो कांग्रेस परिवार की सदस्य हीं. वह नेशनल स्टूडेंट ऑफ इंडिया की अध्यक्ष रही हैं. कई लोग हैं, जिन्होंने अलग-अलग मौकों पर पार्टी छोड़ी. जब वे लोग वापस आए तो उनका हमेशा स्वागत किया गया.’ चाको का बयान अलका लांबा के उस बयान के बाद आया है, जिसमें उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी से दोबारा जुड़ना उनके लिए सम्मान की बात होगी. हालांकि, साथ ही लांबा ने कहा था कि उन्हें कांग्रेस की ओर से अभी कोई प्रस्ताव नहीं मिला.

लांबा ने कहा था, ‘मुझे कांग्रेस की ओर से कोई प्रस्ताव नहीं मिला. 25 साल के राजनीतिक करियर में मैंने 20 साल कांग्रेस को दिए हैं. जब दिल्ली में केवल भाजपा और कांग्रेस में लड़ाई होती थी, तब 15 साल तक लोगों ने भाजपा की सरकार नहीं बनने दी. लोगों ने भाजपा को हराने के लिए एक बार फिर विकल्प देखा और अरविंद केजरीवाल ने वह किया. अब बात देश की है. मैंने देखा है कि कांग्रेस ने मध्य प्रदेश, राजस्थान और छत्तीसगढ़ में कितना अच्छा काम किया है. कांग्रेस लोकसभा चुनाव में अच्छा प्रदर्शन कर सकती है, इसलिए पार्टी को मजबूती देने के लिए हमें आगे आना चाहिए.’

loading...
शेयर करें