जम्मू-कश्मीर में तेज हुई सियासत, महबूबा मुफ्ती और बेटी इल्तिजा नजरबंद

श्रीनगर: पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी(PDP) अध्यक्ष और जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती और उनकी पुत्री इल्तिजा मुफ्ती को शुक्रवार को उनके गुपकार आवास पर नजरबंद कर दिया गया है। महबूबा मुफ्ती के नजरबंद होने के बाद जम्मू कश्मीर में सियासत तेज हो गई है। PDP के नेता बीजेपी पर गैरकानूनी तरह से काम करने पर आरोप लगा रहे हैं।

जम्मू कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा ने कहा कि उन्हें फिर गैरकानूनी रूप से हिरासत में लिया गया है और पुलवामा में वहीद-उर-रहमान पार्रा के परिवार से मिलने की अनुमति नहीं दी गई। इसके बाद उन्हें नजरबंद कर दिया गया है। मबूबा के साथ उनकी बेटी इल्तिजा को भी नजरबंद किया गया है।

पूर्व मुख्यमंत्री ने आरोप लगाया कि भारतीय जनता पार्टी के मंत्रियों और समर्थकों को कश्मीर के किसी भी कोने में जाने की इजाजत है। लेकिन केवल उनके मामले में ही सुरक्षा की समस्या है।  वहीं नेशनल कांफ्रेंस उपाध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने महबूबा मुफ्ती को नजरबंद किए जाने की निंदा की है।

इसके अलावा पीडीपी के प्रवक्ता ताहिर सईद ने भी मुफ्ती के आवास के बाहर संवाददाताओं से कहा कि पूर्व मुख्यमंत्री को नजरबंद कर लिया गया है और पार्टी कार्यकर्ताआं को अंदर जाने और उनसे मिलने नहीं दिया जा रहा है।

यह भी पढ़ें: सोनिया और राहुल का बड़ा दावा, कहा- ‘सत्ता में आने पर किसान विरोधी तीनों कानून फाड़ देंगे’

Related Articles