यूपी के इस शहर में पॉलीथीन कचरा सबसे ज्‍यादा

 

11oripolyth2_182604कानपुर। प्रदेश सरकार के पॉलीथीन पर बैन लगाने का सबसे ज्‍यादा फायदा कानपुर को मिलेगा। क्योंकि सबसे जादा प्लास्टिक वेस्ट (कचरा) यहीं पर निकलता है। इसके बावजूद इसके निस्तारण को कोई व्यवस्था नहीं है।

शहर में प्रतिदिन करीब 1200 मीट्रिक टन कचरा निकलता है। जिसमें ज्‍यादातर प्लास्टिक कचरा ही होता है। सेंट्रल पाल्यूशन कण्ट्रोल बोर्ड की 2012 की रिपोर्ट के अनुसार कानपूर में 106 मीट्रिक टन कचरा निकलता है। जादातर सड़कों में कचरा पड़ा रहने से यह उड़कर नालियों व सीवर लाइनों में जा फंसता है। जिससे सीवर भराव की भी समस्या बनी रहती है। यह बहकर गंगा तक पहुँचती है। जिससे गंगा भी प्रदूषित होती है।

2012 की रिपोर्ट के अनुसार स्थिति

शहर                       प्रतिदिन कचरा

कानपुर                     106.66

लखनऊ                      70.63

आगरा                        40.89

वाराणसी                      26.01

इलाहाबाद                    18.82

मेरठ                              3.35

नोट- यह प्लास्टिक वेस्ट प्रतिदिन मीट्रिक टन में निकलता है।

बन्द होंगी 600 इकाइयां

पॉलीथिन की सबसे जादा इकाइयां भी कानपुर में ही स्थापित हैं। अब सरकार द्वारा बैन लग जाने पर यह बन्द हो जाएँगी।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button