बिहार के मशहूर Lychee बगानों में अब होगा मुर्गी और बकरी पालन

बिहार के प्रसिद्ध लीची के बगीचों में अब मुर्गी और बकरी पालन किया जाएगा, इससे न केवल किसानों को आर्थिक लाभ होगा बल्कि लीची के पौधों को भी कीड़ों से बचाया जा सकेगा

पटना: देश और विदेशों में मीठी और रसीली लीची के लिए प्रसिद्ध बिहार (Bihar) के लीची (Lychee) के बगीचों में अगर आपको मुर्गी और बकरी दिखे तो चैंकिएगा नहीं, क्योंकि अब लीची किसान अपने बगीचे में मुर्गी और बकरी पालन भी करने लगे हैं। इससे न केवल किसानों को आर्थिक लाभ होगा बल्कि लीची के पौधों को भी कीड़ों से बचाया जा सकेगा।

बागान में कीड़े- मकोड़े

मुजफ्फरपुर राष्ट्रीय लीची अनुसंधान केंद्र (Muzaffarpur National Research Center on Litchi) द्वारा लीची के किसानों कि आमदनी को बढ़ाने के लिए लीची के बगीचे में मुर्गी और बकरी पालन की सलाह दे रहा है। केंद्र का मानना है कि इससे लीची के बागान में छोटे-छोटे पौधे और कीड़े मकोड़े से नुकसान को रोकने के लिए कीटनाशक का छिड़काव भी अब नहीं करना पड़ सकता है।

कहा जा रहा है कि लीची के बगीचे में तरह-तरह के छोटे-छोटे पौधे हमेशा निकलते रहते हैं, जो पलने वाले बकरी का चारा बन जाएगा। उसी तरह लीची बगानों में जो कीड़े मकोड़े उत्पन्न होते हैं वे सभी मुर्गों का भोजन हो जाएगा। किसानों के हित में लगातार काम करने वाला राष्ट्रीय लीची अनुसंधान केंद्र के अंदर बागवानी में महंगे तथा साधारण किस्म के मुर्गे पालकर इसका प्रयोग भी किया जा रहा है।

किसानों की आमदनी

केंद्र के निदेशक डॉ. एस डी पांडेय ने बताया  कि अपने यहां लीची के किसान जो की एक फसल लीची का निकाल लेते हैं और दूसरे फसल की तैयारी में फिर उन्हें काफी समय लग जाता है। इसकों देखते हुए हम अपने किसानों की आमदनी को बढ़ाने का एक और तरीका निकाला है, जिसे मुजफ्फरपुर, मोतिहारी, समस्तीपुर सहित अन्य जिले के किसान अपना भी रहे हैं। इससे उन्हें अच्छी आमदनी भी मिलनी शुरू हो गई है।

उन्होंने बताया कि लीची के छोटे किसानों को लीची से अच्छी खासी आमदनी नहीं होती है। कभी-कभी मौसम के साथ ना देने के कारण उन्हें मायूसी भी हाथ लगती है। ऐसे में लीची किसान किसान अपने बजट के हिसाब से अपने लीची के बगीचे में बकरे पालन या मुर्गी पालन कर सकते हैं।

यह भी पढ़ेलखनऊ में चल रही फ़िल्म ‘बलमुआ नदिया पार के’ की शूटिंग, इस दिन होगी रिलीज

(Puridunia हिन्दीअंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

Related Articles