Myanmar में सेना के हाथ में सत्ता, बिडेन ने चेतावनी देते हुए प्रतिबंध लगाने का दिया आदेश

वॉशिंगटन: अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रपति जो बिडेन पदभार संभालते ही एक्शन मोड में आ गए है. अमेरिकी राष्ट्रपति ने बुधवार को म्यांमार (Myanmar) के सैन्य शासन के खिलाफ कड़े प्रतिबंध लगाने के आदेश दिए हैं। दरअसल म्यांमार में तख्तापलट करते हुए वहां की सेना ने इसी महीने सत्ता पर कब्ज़ा कर लिया है। इतना ही नहीं सेना ने स्टेट काउंसलर आंग सान सू ची समेत देश के कई अन्य शीर्ष नेताओं को हिरासत में भी ले लिया है।

अमेरिका के तेवर सख्त 

अमेरिकी राष्ट्रपति ने इसका विरोध करते हुए कहा है कि म्यांमार (Myanmar) की सेना को देश के लोगों की भावनाओं का सम्मान करते हुए सत्ता छोड़ देनी चाहिये. अमेरिकी राष्ट्रपति ने तख्तापलट के बाद कहा कि वह एक कार्यकारी आदेश जारी कर रहे है जिसके तहत म्यांमार के जनरल अमेरिका में 1 अरब डॉलर की संपत्ति का उपयोग नहीं कर सकेंगे. इसके आलावा उन्होंने कई और ठोश कदम उठाने के संकेत दिए है.

इससे पहले सेना के तख्तापलट के बाद बीते मंगलवार को प्रदर्शनकारी इसका विरोध करते हुए सड़क पर उतर गए थे. जबकि म्यांमार में प्रदर्शनों को अवैध करार दे दिया गया है.

पुलिस ने कई प्रदर्शनकारियों को किया गिरफ्तार

म्यांमार (Myanmar) के दूसरे सबसे बड़े शहर मंडाले में प्रदर्शकारियों को भगाने के लिए पानी के बौछारों का इस्तेमाल किया गया। मौके पर मौजूद लोगों के मुताबिक वहां की पुलिस द्वारा चेतावनी स्वरूप दो गोलियां चलाई गईं। सोशल मीडिया पर आई खबरों के मुताबिक, पुलिस ने वहां से दो दर्जन से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया है।

यह भी पढ़ें: PM Modi ने एक टेबल पर बातचीत का दिया न्यौता, किसान संगठन ने 18 फरवरी को ट्रेन रोको अभियान का किया ऐलान

Related Articles

Back to top button