पूर्व राष्ट्रपति का लम्बी बीमारी के बाद निधन ,आइये जानते है उनका राजनैतिक इतिहास

नई दिल्ली: पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की सोमवार से त्ब्यत में गिरावट देखने में आई .  कैंटोनमेंट स्थित आर्मी हॉस्पिटल (रिसर्च एंड रेफरल) ने ब्यान दिया  वे गहरे कोमा में हैं और वेंटिलेटर सपोर्ट पर हैं।

“कल से माननीय श्री प्रणब मुखर्जी के स्वास्थ्य में गिरावट देखी जा रही थी। वह अपने फेफड़ों के संक्रमण के कारण सेप्टिक सदमे में है और विशेषज्ञों की टीम द्वारा प्रबंधित किया जा रहा है। वह गहरे कोमा में और वेंटीलेटर समर्थन पर जारी है। वही दूसरी ओर उनकी रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई और कल शाम उनके मृत्यु की ख़बर आई.

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी का राजनैतिक काल काफ़ी सुहाना रहा .इंद्रा गाँधी की मृत्यु के बाद प्रणब  दा को कांग्रेस सरकार छोड़नी बड़ी और फिर उन्होंने अपनी एक नयी पार्टी का गठन किया , लेकिन वही कुछ  सालों बाद कांग्रेस के साथ ही पार्टी को जोड़ दिया गया . प्रणब मुकर्जी जी को प्रधानमंत्री ने कुछ फोटो शेयर की .

साथ ही उनका एक वीडियो क्लिप भी वायरल हो रहा है जिसमें वे प्रणब दा के बारे में बात करते करते भावुक हो उठे.. आपको बता दे की प्रणब मुकर्जी की तब्यत कई लम्बे समय से ख़राब थी उन्हें  वेंटिलेटर पर रखा गया था .

Related Articles