पूर्व राष्‍ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने की हेडगेवार की तारीफ, बताया- भारत मां का महान सपूत

नागपुर। पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी ने गुरुवार को राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के संस्थापक केशव बलिराम हेडगेवार को ‘भारत माता का एक महान सपूत बताया। मुखर्जी ने हेडगेवार के जन्मस्थल का दौरा किया और आगंतुकों के लिए मौजूद किताब में लिखा, मैं आज यहां भारत माता के महान सपूत को मेरी श्रद्धांजलि और सम्मान पेश करने आया हूं।

pranav

राष्ट्रपति बनने से पहले दशकों तक कांग्रेस पार्टी में रहे मुखर्जी गुरुवार को नागपुर में आरएसएस के एक कार्यक्रम में शामिल होने आए हैं। वह यहां तीन वर्ष के प्रशिक्षण कार्यक्रम तृतीय वर्ष वर्ग के समापन समारोह में आरएसएस कार्यकर्ताओं को संबोधित करेंगे।

उनके इस दौरे की उनकी पार्टी के कई नेताओं समेत कई अन्य लोगों ने आलोचना की है।

महात्मा गांधी की हत्या के बाद 4 फरवरी 1948 को आरएसएस को प्रतिबंधित कर दिया गया था। इस प्रतिबंध को 11 जुलाई 1949 को तब हटाया गया था, जब तत्कालीन सरसंघचालक एम.एम. गोलवलकर ने वचन (अंडरटेकिंग) दिया था कि संगठन भारतीय संविधान का पालन करेगा।

Related Articles