IPL
IPL

Ram Navami पर राष्ट्रपति ने दी शुभकामानाएं, PM मोदी बोले- ‘दवाई भी, कड़ाई भी’ के मंत्र को याद रखिए

रामनवमी के मौके पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी देशवासियों को रामनवमी की हार्दिक शुभकामनाएं दी है

नई दिल्ली: कोरोना (Corona) संकट के बीच नवरात्री के बाद पूरे देश में रामनवमी (Ram Navami) का पर्व लोग सादगी के साथ मना रहे है। इस मौके पर देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सभी देशवासियों को रामनवमी की हार्दिक शुभकामनाएं दी है।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने ट्वीट करके बोले, राम नवमी के शुभ अवसर पर सभी देशवासियों को हार्दिक शुभकामनाएं। मर्यादा पुरुषोत्‍तम राम के जन्‍मदिवस पर मनाया जाने वाला यह पर्व, हमें जीवन में मर्यादा का पालन करने की प्रेरणा देता है। आइये, हम सब यह संकल्प लें कि कोविड-19 महामारी को भी हम सत्‍यनिष्‍ठा एवं संयम से पराजित करेंगे।

‘दवाई भी, कड़ाई भी’ मंत्र

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों को शुभकामनाएं देते हुए बोले कि, आज रामनवमी है और मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम का हम सभी को यही संदेश है कि मर्यादाओं का पालन करें। कोरोना के इस संकट काल में, कोरोना से बचने के जो भी उपाय हैं, कृपया करके उनका पालन कीजिए। ‘दवाई भी, कड़ाई भी’ के मंत्र को याद रखिए।

मां दुर्गा के नवरात्रों का समापन

रामनवमी के त्यौहार का महत्व हिंदु धर्म सभ्यता में महत्वपूर्ण रहा है। इस पर्व के साथ ही मां दुर्गा के नवरात्रों का समापन भी होता है। हिन्दू धर्म में रामनवमी के दिन पूजा अर्चना की जाती है। रामनवमी की पूजा में पहले देवताओं पर जल, रोली और लेपन चढ़ाया जाता है, इसके बाद मूर्तियों पर मुट्ठी भरके चावल चढ़ाये जाते हैं। पूजा के बाद आ‍रती की जाती है। कुछ लोग इस दिन व्रत भी रखते है।

भगवान राम का जन्म

यह पर्व भारत में श्रद्धा और आस्था के साथ मनाया जाता है। रामनवमी के दिन ही चैत्र नवरात्र की समाप्ति भी हो जाती है। हिंदु धर्म शास्त्रों के अनुसार इस दिन भगवान श्री राम जी का जन्म हुआ था अत: इस शुभ तिथि को भक्त लोग रामनवमी के रूप में मनाते हैं एवं पवित्र नदियों में स्नान करके पुण्य के भागीदार होते है।

यह भी पढ़ेवृद्धाश्रम में 56 लोग Corona Positive, रेमडेसिविर इंजेक्शन की कालाबाजारी

Related Articles

Back to top button