कजाकिस्तान के राष्ट्रपति ने Central Asia के राष्ट्राध्यक्षों से की मुलाकात

नूर सुलतान : राष्ट्रपति कसीम-जोमार्ट टोकायव ने Central Asia के राष्ट्राध्यक्षों की सलाहकार बैठक में भाग लिया। उन्होंने एकत्रित राष्ट्राध्यक्षों को एक भाषण दिया, जिसमें तुर्कमेनिस्तान के राष्ट्रपति गुरबांगुली बर्दीमुहामेदोव, किर्गिज़ गणराज्य के राष्ट्रपति सदिर जापरोव, ताजिकिस्तान के राष्ट्रपति इमोमाली रहमोन, उज़्बेकिस्तान के राष्ट्रपति शवकत मिर्जियोयेव, मध्य एशिया के लिए संयुक्त राष्ट्र महासचिव के विशेष प्रतिनिधि शामिल थे।

अफगानिस्तान की हालत को बताया Central Asia की चिंता का सबब

कसीम-जोमार्ट टोकायव ने बैठक के सिम्बोलिस्म का उल्लेख किया, जो मध्य एशियाई देशों की स्वतंत्रता की 30 वीं वर्षगांठ के वर्ष में होता है। इस समय के दौरान, उन्होंने कहा कि राज्य ने इंफ्रास्ट्रक्चर सेक्टर में प्रगति के साथ साथ  सामाजिक-आर्थिक विकास में भी महत्वपूर्ण सफलता हासिल की है।

यह भी पढ़ें : बेटी कमांडेंट बनकर आई सामने तो इंस्पेक्टर पिता ने ठोका सैल्यूट, गर्व से चौड़ा हुआ सीना

उनके मुताबिक आज दुनिया मुश्किल दौर से गुजर रही है। मीटिंग में बोलते हुए उन्होंने अफगानिस्तान की वर्तमान स्थिति को चिंता का विषय बताया। जो  कोरोनावायरस महामारी में और भी विकट हो गई है। कसीम-जोमार्ट टोकायव का मानना है कि मध्य एशिया के सतत विकास को एक नए चरण में सुनिश्चित करने के लिए इस क्षेत्र के देशों के संयुक्त कदमों की ज़रुरत है।

यह भी पढ़ें : खराब मौसम में हुआ नुकसान, बारिश के कारण इंग्लैंड को हराने में असफल रहा भारत

 

Related Articles