मिर्जापुर पत्रकार के खिलाफ मामला दर्ज करने को लेकर प्रेस परिषद ने यूपी सरकार से रिपोर्ट मांगी

0

भारतीय प्रेस परिषद उत्तर प्रदेश में मिर्जापुर की एक स्कूल में बच्चों को मध्यान्ह भोजन यानी मिड-डे-मील में नमक करो कि परोसे जाने का मामला उजागर करने वाले पत्रकार के खिलाफ एफ आई आर दर्ज कर दी गई थी और इसी को लेकर अब उन्होंने को  उत्तर प्रदेश की सरकार से इस मामले को लेकर एक रिपोर्ट मांगी है.

दादी की प्ले सूची ने इस विषय में प्रदेश सरकार की मनमानी कार्यवाही की भी सख्त निंदा करते हुए कहा है कि उन्होंने अपनी जिम्मेदारियां निभा रहे हैं और एक पत्रकार की तरह उन्होंने चुनिंदा तरीकों से उन्हें निशाना बनाया जा रहा है इसके अलावा पुत्तादी की प्रेस एसोसिएशन द्वारा जारी करे गए बयान में मिड डे मील कार्यक्रम में गड़बड़ियों को सुधारने की वजह मिर्जापुर जिला प्रशासन ने पत्रकार के खिलाफ आपराधिक मामला दर्ज कर लिया को खामोश करने का विकल्प चुन लिया है.

एसोसिएशन ने अपने बयान में कहा है कि मिड डे मील कार्यक्रम में गड़बड़ी को सुधारने की बजाय उसके खिलाफ कार्यवाही करने की जगह है आज हम लोगों को गिरफ्तार कर रहा है और जा रहा है जो पत्रकार अपनी निष्ठा से अपना काम कर रहे हैं. वही आपको बता दें कि सोमवार को एडिटर ऑफ इंडिया ने भी इस घटना की निंदा करी थी और इसके निर्माण तथा संवेदनशील मामले को निशाना बनाने का अनूठा उदाहरण के तौर पर अनूठा मामला बताया था.

 

loading...
शेयर करें