IPL
IPL

उत्तर प्रदेश को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दी ये बड़ी सौगात

PM मोदी ने कहा कि उस सरकार का वह बर्ताव आज भी यूपी का गरीब भूला नहीं है। प्रधानमंत्री ने केंद्र की पूर्व सरकार की योजना की भी आलोचना की।

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ( Prime Minister Narendra Modi ) ने उत्तर प्रदेश ( Uttar Pradesh ) में प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण ( PMAY-G ) की वर्तमान प्रगति की सराहना करते हुए कहा कि यूपी ( UP ) आज देश के उन राज्यों में शामिल हैं जहां गांव देहात में गरीबों के लिए सबसे तेजी से घर बनाए जा रहे हैं। इसके साथ ही 6.1 लाख लाभार्थियों को मकान बनाने के लिए 2,691 करोड़ रुपये की रकम जारी की है।

‘यूपी का गरीब भूला नहीं’

PM मोदी ने कहा कि उस सरकार का वह बर्ताव आज भी यूपी का गरीब भूला नहीं है। प्रधानमंत्री ने केंद्र की पूर्व सरकार की योजना की भी आलोचना की। उन्होंने कहा कि पहले भी गरीबों को अच्छे और सस्ते घर की जरूरत थी, लेकिन पूर्व योजनाओं के अनुभव गरीबों के लिए बहुत खराब रहे हैं।

प्रधानमंत्री ने कहा, “इसलिए चार-पांच साल पहले केंद्र सरकार जब इस योजना पर काम कर रही थी तब हमने उन सारी गलतियों से मुक्ति पाने के लिए, गलत नीतियों से मुक्ति पाने के लिए और नये उपाय व तरीके खोजने के लिए और नई नीतियां बनाने के लिए उन बातों पर हमने विशेष ध्यान दिया, जिससे गांव के उन गरीबों तक योजना का लाभ सबसे पहले पहुंचे जो घर की उम्मीद छोड़ चुके हैं। दूसरा हमने कहा कि आवंटन में पूरी पारदर्शिता हो।”

यह भी पढ़ें: पाकिस्तान के खिलाफ दक्षिण अफ्रीका टी-20 टीम की कप्तानी करेंगे क्लासेन

मोदी सरकार की महत्वकांक्षी योजना

PM मोदी ने देश की सबसे बड़ी आबादी वाले राज्य उत्तर प्रदेश में प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण (पीएमएवाई-जी) के 6.1 लाख लाभार्थियों को मकान बनाने के लिए 2,691 करोड़ रुपये की रकम जारी की। पीएमएवाई-जी मोदी सरकार की महत्वकांक्षी योजना है, जिसके तहत 2022 तक देश के ग्रामीण इलाके में सबको आवास की सुविधा मुहैया करवाने का लक्ष्य रखा गया है।

6.1 लाख लाभार्थियों को मिली राशि

प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण के तहत जारी यह राशि उत्तर प्रदेश के जिन 6.1 लाख लाभार्थियों को मिलेगी, उनमें 5.30 लाख ऐसे लाभार्थी होंगे, जिन्हें आर्थिक सहायता की पहली किस्त प्राप्त होगी। जबकि 80 हजार लाभार्थी ऐसे होंगे जिन्हें दूसरी किस्त मिलेगी और जिन्हें पीएमएवाई-जी के अंतर्गत पहली किस्त पहले ही दी जा चुकी है।

1.26 करोड़ घर का हो चुका निर्माण

PMAY-G 20 नवंबर, 2016 को शुरू हुई की गई थी और इस योजना के तहत देशभर में अब तक 1.26 करोड़ घर पहले ही बनाए जा चुके हैं। पीएमएवाई-जी के अंतर्गत मैदानी इलाकों में प्रत्येक लाभार्थी को घर बनाने के लिए 1.20 लाख रुपये, जबकि पहाड़ी क्षेत्रों (पूर्वोत्तर राज्यों/दुर्गम स्थानों/जम्मू कश्मीर और लद्दाख केंद्र शासित क्षेत्रों/आईएपी/एलडबल्यूई जिलों) के लोगों को 1.30 लाख की आर्थिक सहायता दी जाती है।

यह भी पढ़ें: धाकड़ बल्लेबाजी करने वाले इस खिलाड़ी का JSW से करार

Related Articles

Back to top button