IPL
IPL

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा, ‘कोई भी देश-अमीर या गरीब नहीं’

नई दिल्ली: देश के कई राज्यों में फिर से कोरोना के मामलों में बढ़ोतरी देखने को मिली है। कोरोना संक्रमण के मामलों में वृद्धि को देखते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना से संक्रमित राज्यों के मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक की। इस बैठक में पीएम मोदी ने कोरोना की कहर को रोकने के लिए बचाव संबंधी नियमों को सख्ती से लागू करने, आरटी-पीसीआर और ज्यादा से ज्यादा वैक्सीन लगाने जैसे सख्त कदम उठाने के निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक में प्रधानमंत्री ने कहा कि एक तरफ महामारी ने हमें दिखाया कि कैसे प्रभाव दुनिया में तेजी से फैल सकता है और दूसरी तरफ यह दिखाया है कि दुनिया एक आम खतरे से लड़ने के लिए  कैसे एक साथ आ सकती है।

डिजास्टर रेजिलिएंट इन्फ्रास्ट्रक्चर पर अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन में PM मोदी ने कहा कि कोरोना वायरस महामारी ने हमें सिखाया है कि एक अंतर-निर्भर और अंतर-कनेक्टेड दुनिया में, कोई भी देश-अमीर या गरीब नहीं है, पूर्व, पश्चिम या उत्तर, दक्षिण में कोई देश वैश्विक आपदाओं के प्रभाव से बचा हुआ नहीं है।

बैठक के बाद क्या बोले हेमंत सोरेन?

झारखंड मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने बैठक के बाद कहा कि हमारे राज्य में लगभग साढ़े 500 लोग कोरोना से संक्रमित हैं। राज्य के हर जिलों में हमने नजर रखी हुई है। हमने पंचायत स्तर तक वैक्सीनेशन की व्यवस्था की हुई है। हमारे राज्य में अभी सब कंट्रोल में है और इसे बनाए रखने के लिए हम और मजबूती से काम करेंगे।

प्रमोद सावंत का बयान

 

गोवा मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ बैठक में कहा कि पीएम मोदी ने सभी राज्यों में चल रहे वैक्सीनेशन अभियान की समीक्षा की। उन्होंने सभी राज्यों को निर्देश दिया कि सभी राज्यों में टेस्टिंग सुविधा बढ़ानी है और जिस राज्य में नाइट कर्फ्यू हो वहां कोरोना टेस्टिंग बढ़ाने और कंट्रोल करने का निर्देश दिया है।

यह भी पढ़ें: मुख्यमंत्रियों संग PM मोदी की बैठक जारी, इन राज्यों में लगा नाईट कर्फ्यू

Related Articles

Back to top button