दहेज हत्या के कांड में बंद कैदी ने कारागार में की आत्महत्या

उत्तर प्रदेश में मेरठ की चौधरी चरण सिंह जिला जेल में दहेज हत्या के आरोपी विचाराधीन कैदी ने आज सुबह फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।

मेरठ: उत्तर प्रदेश में मेरठ की चौधरी चरण सिंह जिला जेल में दहेज हत्या के आरोपी विचाराधीन कैदी ने आज सुबह फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।रविवार सुबह जेल में बैरक के पीछे बने शौचालय की छत पर रखी पानी की टंकी के पाइप से चादर के सहारे साजिद को लटका देख अन्य बंदियों में हड़कंप मच गया।  जेल के अफसर मौके पर पहुंचे और पड़ताल शुरू की। आनन फानन में शव को नीचे उतारा गया। वहीं फोरेंसिक टीम भी बुला ली गई। पूरी छानबीन के बाद शव को मोर्चरी भिजवा दिया गया।

वरिष्ठ जेल अधीक्षक डॉ. बीडी पांडे ने बताया की बंदी के आत्महत्या करने के कारणों का पता नहीं चल पाया है। जांच के आदेश दिए गए हैं। जांच के बाद सामने आए तथ्यों के आधार पर ही कुछ कहा जा सकेगा। फिलहाल जेल में साजिद का किसी से कोई विवाद न होना सामने आया है।

पुलिस के अनुसार

 

पुलिस के अनुसार लिसाड़ी गेट क्षेत्र के लक्खीपुरा निवासी साजिद की शादी वर्ष 2019 में जिले के कस्बा किठौर निवासी रिहाना से हुई थी। बताया गया है कि पिछले वर्ष 23 नवम्‍बर  को रिहाना ने ससुराल में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली थी। इस मामले में रिहाना के परिजनों ने दहेज हत्या का आरोप लगाते हुए मुकदमा दर्ज कराया था। जिसपर पुलिस ने उसके पति साजिद और उसकी मां को गिरफ्तार करके जेल भेज दिया था। रविवार सुबह जेल में साजिद ने फांसी लगा ली, जिससे उसकी मृत्यु हो गई। इसकी सूचना जेल प्रशासन ने थाना मेडिकल को दी, जिसके बाद पुलिस ने शव फंदे से उतरवाकर पोस्टमार्टम के लिये भिजवा दिया।

यह भी पढ़े:तापमान शून्य से नीचे, ताजा हिमपात के सफेद चादर से ढका श्रीनगर

Related Articles

Back to top button