सीएए और एनआरसी के प्रताड़ित मुद्दे पर प्रियंका गांधी की शिकायत, संज्ञान

लखनऊ:सीएए और अनआरसी के मुद्दे पर आन्दोलनकारियों पर पुलिस की बर्बरता को लेकर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने पुलिउक उत्पीडन का आरोप लगाते हुए शिकायत दर्ज करायी थी| इसी के साथ नागरिकता संशोधन कानून का विरोध करते हुए पुलिस उत्पीड़न का शिकार हुए लोगों से मिलने के लिए आजमगढ़ का दौरा करेंगी। वह बुधवार को आजमगढ़ पहुंच रही हैं।

सीएए और एनआरसी के मुद्दे पर प्रदेश में हुए आंदोलन के दौरान पुलिस की बर्बरता पर राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने मुख्य सचिव और पुलिस महानिदेशक को नोटिस भेजा है। आयोग ने 6 सप्ताह के भीतर जवाब देने के निर्देश दिए हैं।

कांग्रेस पार्टी की महासचिव प्रियंका गांधी की शिकायत का संज्ञान लेते हुए आयोग ने दोनों वरिष्ठ अधिकारियों को नोटिस जारी किया है।

प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू ने बताया कि सीएए व एनआरसी के खिलाफ शांतिपूर्वक आंदोलन करने वाले नागरिकों पर पुलिस ने लाठीचार्ज किया था। प्रदेश के कांग्रेसजनों ने इसकी जानकारी कांग्रेस महासचिव को दी थी।

इसके बाद प्रियंका ने खुद प्रदेश के कई शहरों में पुलिस की बर्बरता के शिकार लोगों से मुलाकात की थी। बाद में प्रियंका गांधी और राहुल गांधी के नेतृत्व में कांग्रेस नेताओं के एक प्रतिनिधिमंडल ने 27 जनवरी को राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग पहुंचकर शिकायत दर्ज कराई थी और एक ज्ञापन भी सौंपा था।

इस पर आयोग ने मुख्य सचिव व डीजीपी को नोटिस भेजकर 6 सप्ताह में जवाब देने का निर्देश दिया है। प्रदेश अध्यक्ष ने बताया कि पिछले दिनों आजमगढ़ के बिलरियागंज में शांतिपूर्ण तरीके से चल रहे आंदोलन के दौरान पुलिस की बर्बरता की जानकारी भी प्रियंका गांधी को दी गई है। वह 12 फरवरी को आजमगढ़ पहुंचकर पुलिस की बर्बरता के शिकार लोगों से मुलाकात करेंगी।

Related Articles