मां सोनिया की जगह रायबरेली से चुनाव लड़ सकती हैं प्रियंका

लखनऊ। काफी समय से प्रियंका गांधी वाड्रा के राजनीति में आने के कयास लगाये जा रहे थे। लगता है अब वो वक़्त आ गया है जब प्रियंका अपनी राजनीतिक पारी की शुरुआत कर सकती हैं। दरअसल सोनिया गांधी ने अध्यक्ष पद छोड़ने के बाद राजनीति को भी अलविदा कहने का फैसला ले लिया है। अब ऐसे में कहा जा रहा है कि प्रियंका, सोनिया की जगह रायबरेली से चुनाव लड़ सकती हैं।

प्रियंका गांधी

उल्लेखनीय है कि लगातार देश में कांग्रेस के गिरते प्रदर्शन को देखते हुए प्रियंका गांधी वाड्रा को राजनीति की बागडौर थमाने की काफी समय से मांग चल रही है। सोनिया गांधी के खराब स्वास्थ्य के चलते प्रियंका ही लंबे समय से उनके संसदीय क्षेत्र को देखती हैं। इसके अलावा वो अपने भाई राहुल के साथ भी चुनावी क्षेत्र का दौरा करती रहती हैं।

इतना ही नहीं कांग्रेस के हर रणीनीति में चर्चा के साथ साथ विकास कार्यों का भी निरक्षण करती हैं। इस लिहाज से रायबरेली संसदीय क्षेत्र के लिए पार्टी को प्रियंका की उम्मीदवारी सबसे मजबूत दिख रही है। राहुल गाँधी को कांग्रेस की सत्ता सौंप देने के बाद से ही सोनिया गांधी ने राजनीति को अलविदा कहने के संकेत दे दिए थे। इस संकेत के बाद से ही रायबरेली सीट के लिए अटकलें लगने लगी थीं।

सूत्रों के मुताबिक यूपी में गठबंधन को लेकर एक रणनीतिक समझ बन चुकी है। सीटों के बंटवारे पर अभी बात होनी है। 2019 के चुनाव में प्रधानमंत्री बनने के लिए नरेंद्र मोदी और बीजेपी को 230-240 सीटों की ज़रूरत होगी। अगर इससे कम सीट आती हैं तो बीजेपी को दिक्कतों का सामना करना पड़ सकता है। वहीँ बीजेपी को सत्ता से उखाड़ फेंकने के लिए विपक्ष के बाद एक गठबंधन का ही सहारा बचा है।

कांग्रेस गठबंधन से पहले अपने आपको मजबूत करने की कवायत में जुट चुकी है। इसके लिए वो जिले और शहर स्तर पर कांग्रेस को मजबूत करने के लिए कमेटियों को पुनर्गठित करने पर जोर दे रही यही। इससे के लिए सबसे पहले पदों पर तीन साल से ज्यादा समय से कब्ज़ा किये नेताओं को बदलने की तैयारी है। पार्टी ने हिमाचल, हरियाणा, उत्तर प्रदेश और दिल्ली में संगठन बदलाव की रूपरेखा भी तैयार कर ली है। साथ ही गांवों, ब्लाक और बूथ लेबल पर मजबूत करने के लिए सचिवों व प्रभारियों को सक्रिय किया गया है।

Related Articles