क्वांटिको विवाद पर सामने आईं प्रियंका, माफ़ी मांगते हुए कहा- मुझे भारतीय होने पर गर्व है

नई दिल्ली: बॉलीवुड और हॉलीवुड में अभिनय और टैलेंट से अपने नाम का डंका बजाने वाली भारतीय अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा इन दिनों अपने अमेरिकी शो क्वांटिको के चलते सुर्ख़ियों में हैं। हाल ही में प्रियंका के क्वांटिको शो में दिखाए गए एक एपिसोड में हिंदू आतंकवाद से जुड़ा एक सीन था जिसकी वजह से विवाद हो रहा था। उस दृश्य के लिए प्रियंका ने माफ़ी मांगी है।

अपने ट्विटर अकाउंट पर माफ़ी मांगते हुए प्रियंका ने ट्वीट किया कि क्वांटिको के इस विवादित एपिसोड से कई लोगों की भावनाओं को ठेस पहुंची है। इसके लिए वो दुखी हैं और माफी चाहती हैं। उनका मकसद कभी भी किसी की भी भावनाओं को ठेस पहुंचाना नहीं था।

पूरा मामला यह है कि एबीसी स्टूडियोज ने प्रियंका चोपड़ा की टीवी सीरिज क्वांटिको के सबसे ताजा एपिसोड में भारतीय राष्ट्रवादियों को न्यूयार्क के मैनहटन में कश्मीर से जुड़े एक सम्मेलन से ठीक पहले एक आतंकी हमला करने की योजना बनाते और उसके लिए पाकिस्तान को फंसाते दिखाने के लिए माफी मांगी है। ट्वीट में उन्होंने आगे लिखा कि यह उनका इरादा नहीं था और आगे कभी ऐसा नहीं होगा। वह ईमानदारी से माफी मांगती हैं। उन्हें गर्व है कि वह भारतीय हैं और यह कभी नहीं बदलेगा।

बता दें कि टीवी सीरिज ‘दि ब्लड ऑफ रोमियो’ ऐपिसोड की भारतीय प्रशंसकों ने कड़ी आलोचना की थी। उन्होंने भारत को नकारात्मक रूप में दिखाने वाली कहानी का हिस्सा होने के लिए प्रियंका की भी आलोचना की।

इस मुद्दे पर एबीसी नेटवर्क ने एक बयान में कहा है कि एबीसी स्टूडियोज एवं ‘क्वांटिको’ के कार्यकारी निर्माता उनके सबसे नए एपिसोड ‘द ब्लड ऑफ रोमियो’ के कारण आहत हुए उनके प्रशंसकों से माफी मांगना चाहते हैं।

जानकारी के मुताबिक बयान में कहा गया क्वांटिक एक काल्पनिक रचना है। कार्यक्रम में कई अलग अलग जातीयता एवं पृष्ठभूमि वाले नकारात्मक किरदार दिखाए जाते रहे हैं लेकिन इस मामले में उन्होंने अनजाने में एक जटिल राजनीतिक मुद्दे में हस्तक्षेप किया जिसका उन्हें अफसोस है। वें निश्चित रूप से किसी को आहत नहीं करना चाहते थे।

निर्माताओं ने कहा कि एपिसोड के लिए प्रियंका को दोषी नहीं ठहराया जाना चाहिए क्योंकि उनका इसपर कोई नियंत्रण नहीं था। इस मुद्दे पर इस तरह के आए बयान को मद्देनज़र रखते हुए प्रियंका चोपड़ा सामने आईं और उन्होंने माफ़ी मांगी है।

Related Articles