दो करोड़ रुपये बढ़ी कबड्डी लीग की इनामी राशि, फ्रेंचाइजी मालिकों में दौड़ी ख़ुशी की लहर

0

मुंबई| वीवो प्रो कबड्डी लीग (पीकेएल) के पांचवें संस्करण की इनामी राशि बढ़ने से फ्रेंचाइजी मालिक काफी खुश हैं। अब इस टूर्नामेंट को जीतने वाली टीम को तीन करोड़ रुपये का इनाम दिया जाएगा। फ्रेंचाइजी मालिकों का कहना है कि इससे इस लीग को एक नई ऊंचाई मिलेगी। इस संस्करण में तय की गई इनामी राशि पिछले संस्करण की तुलना में दो लाख रुपये ज्यादा है।

कबड्डी लीग

कबड्डी लीग में बढ़ी इनाम की राशि

कबड्डी लीग के पांचवें संस्करण में कुल 12 टीमें हिस्सा लेंगीं जो आपस में 138 मैच खेलेंगी। उप-विजेता टीम की ईनामी राशि को भी बढ़ाकर 1.8 करोड़ रुपये कर दिया गया है। साथ ही तीसरे स्थान पर रहने वाली टीम को ईनाम के तौर पर 1।2 करोड़ रुपये दिए जाएंगे। सबसे मूल्यवान खिलाड़ी को 15 लाख रुपये मिलेंगे जबकि बेस्ट रेडर और बेस्ट डिफेंडर को 10-10 लाख रुपये मिलेंगे और सर्वश्रेष्ठ युवा खिलाड़ी को आठ लाख रुपये का पुरस्कार मिलेगा। चौथे संस्करण में बेस्ट रेडर और बेस्ड डिफेंडर को 5-5 लाख रुपये का चैक मिला था।

पीकेएल के कमिशनर अनुपम गोस्वामी ने कहा कि लीग के पांचवें संस्करण की शुरुआत से पहले ही इसने काफी कुछ हासिल किया है। खिलाड़ियों को निलामी में खूब पैसा मिला। इसी तरह अब ईनामी राशि में भी बढ़ोत्तरी कर दी गई है।

अंतर्राष्ट्रीय कबड्डी महासंघ के अध्यक्ष जनार्दन सिंह गहलौत ने भी इस कदम का स्वागत किया है। गहलौत ने कहा कि यह हमारे लिए गर्व का दिन है। कबड्डी में इतनी पुरस्कार राशि का आना वाकई हर्ष का विषय है। मैं आयोजकों को इस खेल को नई ऊंचाइयों तक ले जाने के लिए धन्यवाद देता हूं।

यू मुम्बा टीम के मालिक रोनी स्क्रूवाला ने कहा कि पुरस्कार राशि का बढ़ना इस बात का प्रतीक है कि यह खेल किन ऊंचाइयों तक पहुंच गया है। अब यह लीग नई छवि बनाएगा और अधिक से अधिक युवाओं को अपनी ओर आकर्षित करेगा।

इस साल लीग में शामिल तमिल थालाइवाज के सह-मालिक ए। प्रसाद ने कहा कि प्रो कबड्डी आज देश का सर्वोपरि लीग है और हम इस लीग के साथ जुड़ने के अपने फैसले से खुश हैं। यहां खिलाड़ियों को बड़ा व्यक्तिगत पुरस्कार देने का फैसला स्वागत योग्य है।”

 

loading...
शेयर करें