मुगलों के नाम वाले शहरों के नाम बदलने की मांग पर जद (यू) भड़का

0

पटनाः केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने अपनी सरकार से बिहार और देशभर में मुगलों के नाम वाले शहरों के नाम बदलने की मांग करते हुए बिहार के कई शहरों के नाम बदले जाने की जरूरत बताई तो उनकी बात सत्ता में साझेदार जद (यू) को रास नहीं आई।

राजग के घटक ने गिरिराज को इतिहास जानने की नसीहत दे दी। अपने बयानों से विवादों में रहने वाले नेताओं में शुमार गिरिराज सिंह इलाहाबाद का नाम ‘प्रयागराज’ किए जाने के योगी सरकार के फैसले का स्वागत करते हुए कहा कि इसी तरह बिहार के बख्तियारपुर का नाम भी बदलना चाहिए। बख्तियारपुर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का जन्मस्थान है।

गिरिराज ने पटना में सोमवार को पत्रकारों से चर्चा करते हुए कहा, “आक्रांताओं ने हमारे शहरों के नाम बदले थे, लेकिन ऐसे वक्त जब आज हम शक्ति में आए हैं तो उन नामों को बदल रहे हैं।”

उन्होंने कहा कि बिहार को खिलजी ने लूटा था और आज बिहार के बख्तियारपुर से लेकर कई शहर उन्हीं के नाम पर हैं, ऐसे में इन शहरों का भी नाम बदल देना चाहिए। देश में मुगलों से जुड़े नाम को बदल देना चाहिए।

बिहार के नवादा से भाजपा सांसद ने आगे कहा कि भारत के लोग राम के वंशज हैं, न कि मुगलों के। उन्होंने एक दिन पहले, रविवार को उत्तर प्रदेश के बागपत में कहा था कि “भारत के मुसलमान प्रभु राम के वंशज हैं। वे मुगलों के वंशज नहीं हैं।” वहां पत्रकारों ने जब पूछा कि मुसलमान प्रभु राम के वंशज हैं, तब उनसे नफरत क्यों है? इस सवाल को केंद्रीय मंत्री टाल गए थे।

राम मंदिर निर्माण के संबंध में उन्होंने कहा कि देश में राम मंदिर बनेगा और मुसलमानों के साथ मिलकर बनेगा और जो लोग मंदिर बनाने में रुकावट पैदा करेंगे, उन्हें अंजाम भी भुगतना होगा।

गिरिराज के बयान पर जद (यू) नेता संजय सिंह ने भड़कते हुए कहा, “इस तरह के बेतुके बयान का क्या मतलब है? मीडिया में बने रहने के लिए गिरिराज ऐसे बयान देते रहते हैं। वो इस तरह कहकर देश और समाज को बांटना चाहते हैं। जहां तक वो बख्तियारपुर जिले का नाम बदलने की मांग कर रहे हैं तो पहले उसका इतिहास जान लें।”

जद (यू) नेता ने कहा कि किसी हाल में बिहार के किसी जिले का नाम हरगिज नहीं बदलेगा, ना ही बख्तियारपुर का।

इस बीच राजद ने भी केंद्रीय मंत्री के बयान की आलोचना की है। राजद के विधायक भाई वीरेंद्र ने कहा कि ये राम-रहीम की धरती है। इसे बांटने वालों को जनता देख रही है। ये सबकी धरती है।

उन्होंने कहा, “गिरिराज सिंह तो कल लोगों को पाकिस्तान भेजने की मांग कर रहे थे। गिरिराज सिंह बिहार के जिलों का नाम बदलने वाले होते कौन हैं?”

loading...
शेयर करें