परीक्षा केंद्र हुआ जलमग्न, जान जोखिम में डालकर परीक्षार्थियों ने दी PET की परीक्षा

बलरामपुर: उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग (UPSSSC) ने राज्य के सभी जिलों में पीईटी प्रारंभिक अर्हता परीक्षा 24 अगस्त को आयोजित कराई है। मंगलवार को सभी जिलों में परीक्षा हुई है और इसी में एक बलरामपुर जिला भी है, जो प्रारंभिक अर्हता परीक्षा (PET 2021) को लेकर चर्चा में बना हुआ है। यहां पर परीक्षार्थियों को बाढ़ के दौरान जान जोखिम में डालकर परीक्षा देनी पड़ी है।

उत्तर प्रदेश सरकार की सेवाओं में समूह ‘ग’ के पदों पर भर्तियों के लिए यूपीएसएसएससी (UPSSSC) ने जिले में PET परीक्षा आयोजित कराई है। इस परीक्षा से एक दिन पहले सोमवार रात से ही तेज बारिश शुरू हुई मूसलाधार बारिश और जिले में बाढ़ की स्थिति से बनाए गए कई परीक्षा केंद्र जलमग्न हो गए। यहां पहुंचे परीक्षा केंद्रो तक परीक्षार्थियों को जान जोखिम में डालकर पहुंचना पड़ा।

तीन से 4 शिफ्ट

जिला मुख्यालय स्थित सेंट जेवियर्स हायर सेकेंडरी स्कूल को PET के परीक्षा केंद्र बनाया गया, लेकिन परीक्षा केंद्र तक परीक्षार्थियों को पहुंचने के लिए काफी मेहनत करनी पड़ रही है। स्कूल से पहले तीन से चार फिट पानी बह रहा था और इसी पानी से निकलकर परीक्षा केंद्र तक परीक्षार्थी पहुंचने को मजबूर हुए। इन रास्तों पर इतना खतरा था कि इतना था कि थोड़ी सी चूक डिप पार करने वालों के जान पर भारी पड़ सकती थी।

चारो तरफ पानी

श्रीदत्तगंज ब्लॉक में कुबेरमति इंटर कॉलेज को परीक्षा केंद्र बनाया गया था। परीक्षा केंद्र पर चारों तरफ से जलमग्न हो गया। इस परीक्षा केंद्र तक पहुंचने के लिए भी परीक्षार्थियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। यही हाल श्रीदत्तगंज ब्लॉक के सरदार बल्लभ भाई पटेल माध्यमिक विद्यालय ग़ालिबपुर का भी रहा।

Related Articles