रायबरेली: आतंकियों से मुठभेड़ में शहीद हुए CRPF जवान शैलेन्द्र पंचतत्व में विलीन

रायबरेली: जम्मू कश्मीर के श्रीनगर में आतंकियों से लोहा लेते हुए रायबरेली के शहीद हुए CRPF जवान शैलेन्द्र प्रताप सिंह का आज पंचतत्व में विलीन हो गये। डलमऊ घाट पर उनका अंतिम संस्कार भारत माता की जय हो नारो के बीच वैदिक मंत्रोच्चार के साथ उनके पिता ने किया। शहीद बेटे को मुखाग्नि देते हुए पिता का सीना गर्व से चौड़ा था।

दरअसल रायबरेली के डलमऊ तहसील के मीरमीरानपुर निवासी शैलेन्द्र प्रताप सिंह 2009 में CRPF में भर्ती हुए थे और वर्तमान में जम्मू कश्मीर में तैनात थे। 5 अक्टूबर को श्रीनगर में पम्पोर बाईपास पर आतंकी हमले में शैलेन्द्र शहीद हो गए। आज उनका अंतिम संस्कार जिले के डलमऊ घाट पर किया गया। इससे पहले उनके बेटे ने CRPF जवान शहिद शैलेन्द्र सिंह के पार्थिव शरीर को भारत माता की जय के उदघोष के साथ विदाई दी। 

सुबह जब उनका शव अंतिम संस्कार के लिए जाने लगा तो हजारों की संख्या में लोग शहीद की अंत्येष्टि में शामिल होने के लिए उनकी अंतिम यात्रा में शामिल थे। कारवां जैसे जैसे बढ़ता गया लोगो का भीड़ बढ़ती गई और घाट पर जब चिता पर उनका शव रखा गया तो आकाश शैलेन्द्र सिंह अमर रहे,भारत माता की जय जैसे नारो से गुंजायमान हो गया।इस बीच घाट पर जिलाधिकारी व पुलिस अधीक्षक अपने लाव लश्कर के साथ मौजूद रहे।सीआरपीएफ के जवानों ने शहीद को आखिरी सलामी दी। शहीद को मुखग्नि पिता नरेन्द्र बहादुर सिंह ने इस दौरान लोगो की आंखे नम रही।

ये भी पढ़ें : प्रवर्तन निदेशालय का बड़ा खुलासा, ‘यूपी में जातीय दंगे फ़ैलाने के लिए हुई बड़ी फंडिंग’

Related Articles