सुप्रीम कोर्ट के आदेश का पहला पैराग्राफ भी राहुल ने नही पढ़ा- निर्मला सीतारमण

0

सुप्रीम कोर्ट के राफेल पर हालिया आदेश पर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) को आलोचना का सामना करना पड़ रहा है. नई दिल्ली स्थित बीजेपी हेडक्वार्टर में रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाकर इस मामले पर अपनी राय रखी है. निर्मला सीतारमण ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा, ‘हम सब अच्छी तरह से जानते हैं कि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने एक जजमेंट का एक पैराग्राफ भी नहीं पढ़ा होगा. लेकिन, राहुल का यह कहना कि कोर्ट ने याचिका स्वीकार कर ली है और कोर्ट ने भी कहा है कि चौकीदार चोर है, यह न्यायालय की अवमानना की श्रेणी में आता है.’

गौरतलब है कि राफेल डील मामले में केंद्र सरकार को झटका लगा है. सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को कहा कि राफेल डील में गोपनीय दस्तावेजों की गलत तरीके से ली गई फोटोकापी के आधार पर पुनर्विचार याचिका पर सुनवाई होगी.

इसके उलट मोदी सरकार ने यह कहकर पुनर्विचार याचिका का विरोध किया था कि जिन दस्तावेजों को याचिका का आधार बनाया जा रहा है, वे भारतीय साक्ष्य अधिनियम की धारा 123 के तहत सबूत नहीं माने जा सकते. सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र की इस आपत्ति पर अपना फैसला 14 मार्च को सुरक्षित रख लिया था, लेकिन 10 अप्रैल को कोर्ट ने कहा कि इन दस्तावेजों को सुनवाई में शामिल कर सकते हैं.

दरअसल अमेठी में नामांकन करने के बाद कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर हमला बोला. उन्होंने कहा था कि सुप्रीम कोर्ट ने भी अब मान लिया है कि राफेल डील में घोटाला हुआ था, वह प्रधानमंत्री को भ्रष्टाचार पर बहस करने की चुनौती देते हैं. राहुल गांधी ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने भी मान लिया है कि चौकीदार ने चोरी की है.

.

loading...
शेयर करें