न मोदी न आडवानी… अटल बिहारी को देखने सबसे पहले पहुंचे राहुल गांधी

नई दिल्ली। बीते कई सालों से बीमार चल रहे पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को एम्स हॉस्पिटल में सोमवार की दोपहर को भर्ती कराया गया। इस दौरान उनसे मुलाक़ात करने और हालचाल लेने में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी दौड़ में सबसे आगे रहे।

चिदंबरम ने दिखाया मोदी सरकार को आईना, कहा-2 सालों में जीडीपी…

अटल बिहारी वाजपेयी

वहीं राहुल गांधी के ठीक बाद बीजेपी अध्‍यक्ष अमित शाह भी अटल बिहारी वाजपेई का हाल-चाल लेने के लिए एम्‍स पहुंचे। खबरों के मुताबिक, शाह के साथ केंद्रीय मंत्री जेपी नड्डा भी मौजूद थे। वहीं दूसरी तरफ खबर यह भी है कि कुछ ही देर में पीएम मोदी भी वाजपेई को देखने एम्‍स पहुंचने वाले हैं।

उनके एम्स में भर्ती होने के तुरंत बाद राहुल गांधी ने बिना देर किए अटल बिहारी वाजपेयी से मुलाक़ात की और उनकी तबियत का हाल जाना। राहुल के इस कदम को राजनीतिक स्तर से भी जोड़कर देखा जा रहा है।

खबरों के मुताबिक़ पूर्व प्रधानमंत्री को आज दोपहर में रुटीन चेकअप के लिए एम्स अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

होने वाली है ऐतिहासिक मुलाकात, शिखर बैठक के लिए सिंगापुर पहुंचे…

जांच के बाद एम्स की ओर से बताया कि वाजपेयी की हालात अभी स्थिर है। वाजयेपी का रुटीन चेकअप और मेडिकल जांच एम्स के डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया की देखरेख में किया जा रहा है। बताया जा रहा है कि ये सिर्फ रुटीन चेकअप है और आज रात 8 बजे उन्हें डिस्चार्ज कर दिया जाएगा।

बता दें कि बीते सात साल से अटल बिहारी वाजपेयी का रुटीन चेकअप एम्स में होता रहा है और आज का चेकअप भी इसी नियमित चेकअप का हिस्सा है।

पूर्व पीएम वाजपेयी साल 2009 से बीमार हैं और उन्हें चलने-फिरने के लिए व्हीलचेयर का इस्तेमाल करना पड़ता है। वयोवृद्ध राजनेता डिमेंशिया यानि भूलने की बीमारी से पीड़ित हैं। ग़ौरतलब है कि पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी लंबे वक्त से बीमार हैं और चलने फिरने और बात करने से असमर्थ हैं। इस कारण बीते तीन सालों से उन्हें किसी सार्वजिक सभा में नहीं देखा गया है।

Related Articles