राहुल गांधी ने कहा, ‘देश की गुप्त सूचना को पत्रकार को लीक करना आपराधिक कृत्य’

नई दिल्ली: कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने कहा कि एक सुनियोजित हमले से संबंधित राष्ट्र की गुप्त सूचना से जुड़ी संवेदनशील जानकारी को पत्रकार को लीक करना एक ‘आपराधिक कृत्य’ है और इसके पीछे जिम्मेदार लोगों को जेल में डाला जाना चाहिए। CRPF के काफिले पर पुलवामा में आतंकी हमले के बाद बालाकोट में हवाई हमले पर चर्चा करने वाले कथित चैट के बारे में एक सवाल पर राहुल गांधी ने कहा, “किसी भी संवेदनशील जानकारी का लीक होना एक आपराधिक कृत्य है। यह उस व्यक्ति पर लागू होता है जो इसे भेजता है और जो व्यक्ति इसे प्राप्त करता है।”

राहुल गांधी ने कहा कि सुनियोजित हवाई हमले से जुड़ी जानकारी राष्ट्र का एक संवेदनशील मुद्दा था, जो केवल प्रधानमंत्री, केंद्रीय गृह मंत्री, केंद्रीय रक्षा मंत्री, भारतीय वायु सेना प्रमुख और राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार के पास होता है। राहुल ने कहा, “मैं यह जानना चाहता हूं कि प्रधानमंत्री, गृह मंत्री, रक्षा मंत्री या एनएसए में से किसने पत्रकार को गुप्त जानकारी लीक की है। यह एक आपराधिक कृत्य है। अगर पत्रकार को इस तरह की जानकारी उसके व्हाट्सएप पर होती है, तो मुझे लगता है कि यह संभवत: पाकिस्तानियों के पास भी उपलब्ध हो सकती है।”

उन्होंने कहा कि एक पत्रकार को इस तरह की जानकारी लीक करने से भारतीय वायुसेना के फाइटर जेट्स और पायलटों को खतरा है और यह ‘देशभक्ति’ का कार्य नहीं है। राहुल गांधी ने कहा कि ऐसी गुप्त जानकारी लीक करने वालों को जेल में डालने की प्रक्रिया शुरू होनी चाहिए।

यह भी पढ़ें: अर्णब गोस्वामी ने ऑफिशियल सेक्रेट एक्ट का उल्लंघन किया : कांग्रेस

Related Articles

Back to top button