राहुल गांधी ने खोला कांग्रेस के लिए कर्नाटक जीतने का रास्ता, गुजरात की तर्ज पर शुरू किया प्रचार

0

बेंगलुरु। देश में इस साल कर्नाटक समेत कई राज्यों में विधानसभा के चुनाव होने हैं। इसमें कर्नाटक को सबसे अहम माना जा रहा है। कांग्रेस के पास यही एक बड़ा राज्य बचा है। बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह और पीएम मोदी की नजर अब कर्नाटक पर लगी हुई है। वहीं, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने गुजरात के तर्ज पर कर्नाटक में चुनाव प्रचार शुरु कर दिया है। राहुल के लिए ये चुनाव सबसे अहम माना जा रहा है। कहा जा रहा है कि इन चुनावों का असर 2019 के लोकसभा चुनाव पर भी पड़ेगा।

राहुल गांधी

कोप्पल जिले के प्रसिद्ध हुलिगम्मा मंदिर में दर्शन किया

चार दिन के दौरे पर कर्नाटक पहुंचे राहुल ने पहले दिन कोप्पल जिले में स्थित देवी हुलीगम्मा मंदिर पहुंचे। इस इलाके में यह मंदिर काफी प्रसिद्ध है। इसके बाद वह गवी सिद्धेश्वर मठ गए। यह लिंगायत समुदाय का प्रसिद्ध स्थल है। मंदिर और मठ में मौजूद लोगों से भी राहुल ने मुलाकात की और उनसे बातचीत की। रास्ते में वह कई जगहों पर रुके और कांग्रेस कार्यकर्ताओं से भी मुलाकात की। उनके साथ मुख्यमंत्री सिद्धारमैया, प्रदेश पार्टी अध्यक्ष जी परमेश्वर और प्रदेश के ऊर्जा मंत्री डीके शिवकुमार भी थे।

सीएम सिद्धारमैया की तारीफ करते रहे राहुल

राहुल यहां लगातार ही सिद्धारमैया की तारीफ करते रहे, जिससे इस बात में कोई संदेह नहीं कर्नाटक में वही कांग्रेस के मुख्यमंत्री के उम्मीदवार होंगे। इस दौरान राहुल गांधी ने पीएम मोदी पर तंज कसते हुए कहा कि मुख्यमंत्री सिद्धारमैया कर्नाटक की गाड़ी आगे देखकर चलाते हैं, जबकि मोदी अपनी गाड़ी को ‘रीयर व्यू मिरर’ देखकर में देखकर चलाते हैं। उन्हें पता नहीं होता कि उनके आगे क्या है, उन्हें पता नहीं होता। अगर आगे कोई गड्ढा होगा तो उनकी गाड़ी गिर जायेगी।

बीजेपी ने साधा निशाना

भाजपा से लोकसभा सांसद शोभा करंदलाजे ने मंदिर और मठ जाने को लेकर राहुल पर निशाना साधा। उन्होंने ट्वीट किया कि चुनावी हिंदू राहुल गांधी कर्नाटक में भी मंदिर और मठ जा रहे हैं। उन्हें अपनी सच्ची आस्था का खुलासा करना चाहिए। मंदिरों की यात्रा की नौटंकी से हिंदुओं को बेवकूफ नहीं बनाया जा सकता है। राज्य की सत्ता में काबिज कांग्रेस सरकार पूरी तरह से हिंदू विरोधी है।

loading...
शेयर करें