देश में 45 साल में आज सबसे अधिक बेरोजगारी : राहुल गांधी

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को यहां एक चुनावी सभा में केंद्र सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि सरकार की गलत नीति के कारण 45 साल में आज देश में सबसे अधिक बेरोजगारी है। उन्होंने कहा कि आज गरीबों की जेब से पैसा निकालकर अमीरों की जेब में डाला जा रहा है।

राहुल ने कांग्रेस की उम्मीदवार रंजीत रंजन के पक्ष में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि आज गरीबों के पास पैसा नहीं है, जिस कारण उनकी क्रयशक्ति समाप्त हो गई है, जिससे देश की अर्थव्यवस्था चौपट हो गई।

राहुल ने वादा किया कि कांग्रेस सत्ता में आई तो न्याय योजना लागू करेगी, जिसके तहत 12,000 रुपये से कम कमाने वाले लोगों को प्रत्येक वर्ष 72,000 रुपये की धनराशि दी जाएगी। उन्होंने कहा कि इस योजना से देश की अर्थव्यवस्था पटरी पर लौट आएगी, जिससे रोजगार भी बढ़ेगा।

राहुल ने कहा, “अगर कांग्रेस की सरकार आती है तो अगले साल देश में दो बजट पेश होंगे। एक सामान्य बजट और एक किसानों के लिए अलग से बजट होगा। आज किसान 20 हजार रुपये ऋण लेता है और उसे लौटा नहीं पाता है, तो सरकार उसे जेल में डाल देती है। चुनाव के बाद कर्ज नहीं चुकाने पर किसी भी किसान को जेल नहीं जाना पड़ेगा।”

राहुल ने कहा कि आज देश में बेरोजगारों की संख्या बढ़ी है। उन्होंने कहा कि 45 साल में आज देश में सबसे ज्यादा बेरोजगारी है। राहुल ने आरोप लगाया कि अभी जनता का पैसा पूंजीपतियों के खाते में जा रहा है, जबकि कांग्रेस की सरकार बनी तो उनका पैसा जनता के खाते में आएगा।

उन्होंने कहा कि अगर अमीरों के खाते में पैसे डाले जा सकते हैं, तो गरीबों के खाते में पैसे क्यों नहीं डाले जा सकते।

इससे पहले, राहुल के सुपौल पहुंचने पर निवर्तमान सांसद रंजीत रंजन ने उनका स्वागत किया।

इस चुनावी सभा में हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा के प्रमुख जीतन राम मांझी, रालोसपा के प्रमुख और पूर्व केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा उपस्थित रहे। हालांकि, राजद के नेता तेजस्वी यादव सभा में नहीं पहुंचे।

बिहार में लोकसभा चुनाव के सभी सात चरणों में मतदान होना है। सुपौल में तीसरे चरण में यानी 23 अप्रैल को मतदान होगा। 23 मई को चुनाव परिणाम घोषित किए जाएंगे।

Related Articles