राहुल गांधी के फोन की हुई जासूसी, कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा, ये भारतीय जासूस पार्टी है

नई दिल्ली: कांग्रेस सांसद राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के दो मोबाइल फोन को टैप किया गया है। इससे नाराज कांग्रेस ने सोमवार को जासूसी कांड की मीडिया रिपोर्ट्स को लेकर केन्द्र सरकार पर बड़ा हमला बोला है। कांग्रेस (Congress) प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला का कहना है कि मोदी सरकार ने राहुल गांधी सहित अपने खुद मंत्रिमंडल में बैठे मंत्रियों की फोन टैपिंग करवाई है। इस मामले का तब पता चला जब द वायर ने अपनी रिपोर्ट में बताया कि राहुल गांधी (Rahul Gandhi) के दो मोबाइल फोन समेत 300 भारतीयों के नंबर NSO की लिस्ट में शामिल थे। NSO इजरायल की कंपनी है और ये पेगासस (Pegasus) सॉफ्टवेयर बनाती है।

भाजपा बदले नाम

रणदीप सुरजेवाला का कहना है कि केंद्र सरकार ने नागरिकों के मौलिक अधिकारों को दबाने की कोशिश की है और ये देश की सुरक्षा के साथ खिलवाड़ करने का काम किया है। साथ ही ये भी आरोप लगाया कि कि राहुल गांधी समेत देश के नेताओं, देश के सम्मानित अलग-अलग मीडिया संगठन के पत्रकारों और संवैधानिक पदों की जासूसी करवाई गई है। इसलिए भारतीय जनता पार्टी को अपना नाम बदलकर भारतीय जासूस पार्टी रख देना चाहिए। उन्होंने कहा, अब देश के नागरिक जान चुके है कि अबकी बार देशद्रही जासूस सरकार।

जासूसी कांड से नाराज कांग्रेस प्रवक्ता

जासूसी कांड से नाराज कांग्रेस प्रवक्ता ने कहा कि अब तो ऐसा लगता है कि खुद मोदी सरकार संविधान व कानून के शासन पर हमला बोल रखा हो। सरकार ने जिस संविधान की जो शपथ ली थी अब उसे दबाकर उस पर ही हमला बोल रखा है। मोदी सरकार खुद ही इजरायली जासूसी उपकरण पैगासस के माध्यम से यह नृशंस कार्य कर रही है।

Related Articles