‘6 महीने बाद देश में न रोजगार होगा, ना ही खाने के लिए भोजन’

'6 महीने बाद देश में न रोजगार होगा और ना ही खाने के लिए भोजन'

नई दिल्ली: मोदी सरकार द्वारा लाए गए कृषि कानूनों के विरोध में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने पंजाब से देश में ट्रैक्टर रैली की शुरुआत की है, आज वो रैली के साथ हरियाणा पहुंचेंगे. राहुल ने कहा कि हम पंजाब और हरियाणा के किसानों की लड़ाई लड़ रहे हैं.हम ये यात्रा मोदी सरकार के तीन काले कानूनों के खिलाफ कर रहे है. ये मौजूदा सिस्टम को पूरी तरह खत्म करने का तरीका है, पहले नोटबंदी, फिर जीएसटी और अब ये कानून लाया जा रहा है.

राहुल गांधी ने कहा कि पहले नोटबंदी हुई तो गरीबो पर हमला हुआ, जीएसटी आया तो कारोबारियों पर, और फिर सरकार ने अचानक लॉकडाउन कर दिया, गरीब सड़क पर मर गया. राहुल गाँधी बोले कि जब मैंने कोरोना को लेकर बात की तो मेरा मजाक उड़ाया गया, एक व्यक्ति यह कह रहा है कि 20-21 दिन में लड़ाई खत्म हो जाएगी, लेकिन उन्हें ये ही नहीं पता किआखिर में कोरोना है कोरोना क्या.

खुद पीएम को भी समझ नहीं आते ये तीन कृषि कानून –

राहुल गांधी ने कहा कि मुझे लगता है कि खुद पीएम मोदी को भी ये कृषि कानून समझ नहीं आते. कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष बोले कि 6 महीने बाद देश में न ही रोजगार होगा और ना ही खाने के लिए भोजन, क्योंकि सिस्टम को पूरी तरह से तोड़ दिया गया है. मेरी इस बात का फिर से मज़ाक बनाया जाएगा. राहुल ने कहा की सरकार ने इन कानूनों को लेकर सबकुछ बिगाड़ दिया है. भले ही आज कम मंडियां हैं, भ्रष्टाचार है लेकिन अगर किले को ही तोड़ दिया जायेगा तो किसान भी नहीं बचेगा. राहुल बोले कि पीएम मोदी सिर्फ अंबानी-अडानी के लिए रास्ते साफ़ कर रहे है.

ये भी पढ़ें : पटना: गोली मारकर हत्या करने के बाद भी खड़े रहे बदमाश

अपनी छवि बचाने के लिए चीन को दिया भारत माँ का हिस्सा –

राहुल गांधी ने कहा की पीएम मोदी पत्रकार और चीन दोनों से डरते हैं. उन्होंने कहा कि पीएम ने तो बोला था कि भारत माँ की ज़मीन किसी ने नहीं ली, लेकिन 1200 स्क्वायर किमी. जमीन चीन ने हथिया ली है.कांग्रेस नेता ने कहा कि चीन को पता है कि मोदी सिर्फ अपनी इमेज की रक्षा करते है और इमेज बचाने के लिए जमीन हमें मिल जाएगी. राहुल गाँधी ने ये भी कहा कि ये लोग भारत माता की बात करते हैं लेकिन भारत माता का ही टुकड़ा ही चीन को दे दिया.

हाथरस केस में सरकार पर उठाये सवाल –

हाथरस केस पर राहुल गांधी बोले कि मुझे धक्का लगना कोई बड़ी बात नहीं है, पर पूरे देश को मारा जा रहा है. राहुल ने कहा कि अगर किसी के बेटे या बेटी की हत्या कर दी जाए, और उसके फिर मां-बाप को बंद कर दिया जाए और फिर यह कह कर डराया जाए की सब चले जाएंगे हम बचेंगे, मै इसी वजह से हाथरस गया था क्योकि उनके परिवार वालो के साथ खड़ा रहना आवश्यक था.

 

Related Articles