जासूसी कांड पर राहुल का हमला, कहा- मोदी सरकार ने कराई जासूसी, देने होंगे जवाब

संसद भवन के पास मीडिया से बात करते हुए कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Former President Rahul Gandhi) ने कहा, कि संसद में विपक्ष की आवाज दबाने का काम किया जा रहा है।

नई दिल्ली: पेगासस जासूसी कांड (Pegasus Detective Scandal) को लेकर लगभग सभी विपक्षी पार्टियां एकजुट हैं। बुधवार को संसद भवन के पास विजय चौक पर विपक्षी दलों ने एक सुर में केंद्र सरकार पर हमला बोल दिया। सभी का मत रहा कि केंद्र सरकार पेगासस जासूसी मामले पर सदन में जवाब दे। इससे पहले करीब 14 विपक्षी दलों की इसी मुद्दे पर साझा बैठक हुई, जिसमें पेगासस मामले में सरकार की जबरदस्त घेराबंदी करने की रणनीति बनाई थी।

संसद भवन के पास मीडिया से बात करते हुए कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी (Former President Rahul Gandhi) ने कहा, कि संसद में विपक्ष की आवाज दबाने का काम किया जा रहा है। उन्होंने सवाल किया कि क्या केंद्र सरकार ने जासूसी करवाई? हां या ना हमें जवाब दे। राहुल गांधी ने कहा कि पेगासस जासूसी कांड (Pegasus Detective Scandal) पर सरकार को सफाई देनी चाहिए। राहुल ने कहा कि कई बड़े पत्रकारं की जासूसी करवाई, मोदी सरकार ने मेरी जासूसी करवाई, जज व पत्रकार की जासूसी कराई गई और सरकार कोई जवाब नहीं दे रही है।

लोगों के फोन में जासूसी का हथियार डाला: राहुल 

राहुल ने कहा कि मोदी जी ने लोगों के फोन में जासूसी का हथियार डाला है। हर दल जासूसी कांड पर सरकार से जवाब चाहता है। सवाल पूछा कि लोकतंत्र में जासूसी का हथियार क्यों? कहा कि जासूसी कांड पर सदन में चर्चा करे सरकार, मेरे खिलाफ पेगासस हथियार इस्तेमाल किया गया।

राहुल गांधी ने केंद्र पर तीखा वार करते हुए कहा कि हिंदुस्तान के लोकतंत्र पर हमला हुआ है और मोदी सरकार ने लोकतंत्र की आत्मा को चोट पहुंचाई गई है। राहुल ने साफ तौर पर कहा कि ये प्राइवेसी का मामला नहीं राष्ट्र विरोध का मामला है।

यह भी पढ़ें: राकेश अस्थाना ने संभाला Delhi Police Commissioner की जिम्मेदारी, जानिए इनके बड़े काम

Related Articles