देवरिया जेल में छापेमारी, बाहुबली अतीक अहमद की बैरक से मिले पैन ड्राइव और सिम

0

लखनऊ: उत्तर प्रदेश की देवरिया जिला जेल में बड़ी छापेमारी की गई। जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक की मौजूदगी में हुई इस छापेमारी के दौरान बाहुबली नेता और पूर्व सांसद अतीक अहमद की बैरक की भी तलाशी ली गई। इस दौरान उनके बैरक में दो सिमकार्ड और चार पैन ड्राइव बरामद मिले। इसके अलावा अन्य कैदियों की बैरक से एक मोबाइल फोन, 2 सिम कार्ड और हैंडमेड चाकू भी बरामद हुआ है।

दरअसल, कुख्यात अपराधी मुन्ना बजरंगी की बागपत जेल के हत्या होने के बाद यूपी की जेल व्यवस्था पर सवाल खड़े हो रहे हैं. जिसके चलते जेल प्रशासन उन जेलों की सुरक्षा व्यवस्था पर खास नजर रख रहा है, जहां बाहुबली, माफिया डॉन औक कुख्यात गैंगस्टर मौजूद है। इसी के मद्देनजर देरविया जिले के डीएम ने भारी भरकम पुलिस फोर्स के साथ जिला जेल में छापेमारी की कार्रवाई को अंजाम दिया।

एसपी रोहन पी. कनय ने बताया कि 300 सिपाहियों के साथ छापेमारी की गई है। इस दौरान पूर्व सांसद अतीक अहमद की बैरक से दो सिम, चार पेनड्राइव बरामद की गई हैं। उनकी जांच की जा रही है। इसके साथ ही एक अन्य कैदी की बैरक से मोबाइल फोन भी बरामद हुआ है।

डीएम सुजीत कुमार ने बताया कि पिछले काफी दिनों से जेल में मोबाइल होने के संकेत मिल रहे थे। जिसके बाद छापेमारी की कार्रवाई की गई है। इस दौरान जेल से एक मोबाइल, दो अन्य सिम कार्ड और हैंडमेड चाकू भी बरामद किया गया है। यह सब जेल में कैसे पहुंचा, पुलिस इसकी जांच कर रही है।

कौन है अतीक अहमद

अतीक अहमद का जन्म 10 अगस्त 1962 को हुआ था। यूपी के श्रावस्ती जनपद के मूल निवासी अतीक का पढ़ाई लिखाई खास मन नहीं लगा। हाई स्कूल में फेल हो जाने के बाद उन्होंने पढ़ाई छोड़ दी थी। कई माफियाओं की तरह ही अतीक अहमद ने भी जुर्म के रास्ते से सियासत में कदम रखा। पूर्वांचल और इलाहाबाद में सरकारी ठेकेदारी, खनन और रंगदारी के कई मामलों में उनका नाम आया।

loading...
शेयर करें