बच्‍ची के लिए पानी लेकर ट्रेन में पहुंच गए ‘प्रभु’

suresh-prabhu-s-650_022615035353

कोलकाता। रेलमंत्री प्रभु एक बार फिर मदद के लिए प्रकट हुए हैं। इस बार मामला पश्चिम बंगाल के आसनसोल स्‍टेशन का है।

पढ़ें : चलती ट्रेन में मनचले कर रहे थे छेड़खानी, प्रकट हो गए ‘प्रभु’

सॉफ्टवेयर इंजीनियर शंकर पंडित ने ट्रेन में सफर के दौरान डिहाइड्रेशन का शिकार हुई बेटी के इलाज के लिए सुरेश प्रभु को ट्वीट किया। प्रभु ने फौरन अफसरों को ऑर्डर दिए। आसनसोल स्टेशन भागलपुर-बेंगलुरु अंग एक्सप्रेस में बीमार बच्ची को मेडिकल केयर मिल गई। अब बच्ची की हालत बेहतर है।

पढ़ें : प्रभु ने फिर की मदद, अफसर चलती ट्रेन में ले आए डॉक्‍टर

शंकर पंडित अपनी पत्नी और दो साल की बेटी के साथ बेंगलुरु जा रहे थे। बच्ची को लगातार लूज मोशन हो रहे थे। इस वजह से वह डिहाइड्रेशन का शिकार हो गई। कम्पार्टमेंट में कई लोगों ने बच्ची की मदद की कोशिश की।

पढ़ें : ये है प्रभु की लीला! चलती ट्रेन में बीमार महिला का इलाज करने पहुंचे डॉक्टर

शंकर ने जैसे ही रेलमंत्री को ट्वीट कर अपनी प्रॉब्लम बताई और फौरन मदद की अपील की। कुछ ही मिनट में रेलमंत्री के दफ्तर से उनके पास फोन आया। उनकी लोकेशन पूछी गई। बुधवार रात 8.50 बजे ट्रेन जैसे ही आसनसोल स्टेशन पर रुकी, उनके डब्बे के कोच के सामने मेडिकल टीम मौजूद थी।

Related Articles

Leave a Reply

Back to top button