मोदी सरकार का बड़ा फैसला, रेलवे में एक लाख पदों पर होगीं भर्तियां

0

नई दिल्ली। रोजगार के अवसर दिलाने को लेकर हमेशा ही विपक्ष के निशाने पर रही भाजपा सरकार ने रेलवे के एक लाख पदों पर भर्ती का फैसला लिया। उनका ये फैसला लोगों के लिए बड़ी राहत साबित हो सकता है जिसको लेकर तैयारियां जोरों पर हैं। शुरूआती तौर पर इसकी मंजूरी मिल चुकी है। ये भी बताया जा रहा है कि इससे जुड़ें ज्यादातर पद सेफ्टी वाले होंगे। हालांकि अभी इसमें थोड़ा समय लग सकता है क्योंकि इधर कई वर्षों में इतनी बड़ी संख्या में कभी भर्ती नहीं की गयी है।

रेलवे में भर्ती

रेलवे में भर्ती एक साथ के बजाए कई चरणों में होंगी

ख़बरों की माने तो ये भी कहा जा रहा है कि रेलवे में ये भर्तियां एक साथ के बजाए कई चरणों में होंगी। यानी कि एक वक्त में गैंगमैन्स की भर्ती हो और उसके कुछ वक्त बाद किसी खास कैटिगरी में भर्ती की जाए। इधर रेलवे सूत्रों का कहना है कि रेलवे में पहले से काफी मंजूर पद खाली पड़े हुए हैं। इसलिए उन पदों पर भर्ती के लिए कैबिनेट की मंजूरी की जरुरत नहीं होगी।

रेलवे की यूनियन के नेता शिवगोपाल मिश्रा ने बताया, कि इस समय रेलवे में सेफ्टी से जुड़े लगभग ढाई लाख पद खाली पड़े हुए हैं। अगर इन पदों पर सरकार भर्ती करती है तो ये काफी अच्छा रहेगा। क्योंकि रेलवे यूनियन काफी समय से इन पदों पर मांग कर रहा था कि रेलवे सेफ्टी पर फोकस करना है, तो उसे सेफ्टी के खाली पदों को भरना चाहिए।

बीजेपी सूत्रों का कहना है कि रेलवे में खाली पड़े पदों पर भर्तियां मोदी सरकार का काफी बड़ा फैसला है, जो लोगों के लिए राहत भरा साबित हो सकता है। इसके अलावा भले ही ये पद एक लाख लोगों के लिए हो लेकिन इसके लिए लाखों की तादात में युवा आवेदन करेंगे। इस तरह से साफ़ पाता चलेगा कि मोदी सरकार का वादा झूठा नहीं है। उनके कार्यकाल में युवाओं को नौकरियां दी जा रही हैं। दरअसल, विपक्ष लगातार नौकरी को लेकर मोदी सरकार पर निशाना साधता रहा है।

loading...
शेयर करें