बारिश और आंधी तूफान ने मचाई तबाही, उडी घरों की छतें, एक की मौत

हिमाचल प्रदेश में रविवार की आंधी और तूफान बारिश ने तबाही मचाई। मंडी जिले के धर्मपुर में एक व्यक्ति की मौत हो गई। उक्त व्यक्ति गर्मी से बचने के लिए छत पर सोया हुआ था।तूफान आते ही वह छत से उतरने लगा और पांव फिसलने से गिर गया। घायल को धर्मपुर सिविल अस्पताल लाया गया जहां से उसे मंडी रेफर कर दिया गया। यहां उसकी मौत हो गई।डीएसपी सरकाघाट चन्द्रपाल ने पुष्टि की है। वहीं मंडी जिले में कई घरों की छतें उड़ गईं, गाडियों और मकानों पर पेड़ गिर गए। कई गाडिय़ोंं के शीशे भी टूटे हैं। कई गांवों की बिजली देररात से गुल है।

सुंदरनगर में तूफान के कारण बिजली विभाग को करीब 25 लाख का नुकसान हुआ है। इंजीनियर विकास शर्मा अधिशासी अभियंता विद्युत मंडल सुंदरनगर ने कहा कि शहर में शाम के समय और कई ग्रामीण क्षेत्रों में दो दिन तक बिजली बहाल होगी।कांगड़ा जिले के खुंडिया क्षेत्र में मक्की की फसल को भारी बारिश से काफी नुकसान हुआ है। थुरल की पंचायत भ्रांता में तूफान से मकान पर पीपल का पेड गिर गया।मकान के स्लैब का कुछ हिस्सा टूट गया और दीवारों में भी दरारें पड़ गई हैं। पंचायत प्रधान एवं हल्का पटवारी ने मौके पर जाकर स्थिति का जायजा लिया है।सुंदरनगर के मंगलाह गांव में तूफान से मकान पर पेड़ गिर गया। सरकाघाट में रात को हुए तूफान ने भारी तबाही मचाई। बिजली की तारें टूट गईं। नेरचौक में आंधी तूफान से भारी नुकसान हुआ है, दर्जनों घर की छतें उड़ गईं। वहीं कई पेड़ गिरने से बिजली गुल हो गई।

 

Related Articles