पहाड़ों पर बारिश और बर्फबारी से बढ़ी ठंड, कटा कश्मीर का संपर्क

0
हिमाचल: उत्तराखंड में बृहस्पतिवार को मौसम ने लिया बदलाव,वही पहाड़ी इलाकों में मैदानों साध ही ठंड बढ़ गई है| और तापमान में भी गिरावट दर्ज की गई है। बारिश और बर्फबारी से जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। श्रीनगर के एयरपोर्ट में नौ उड़ानें रद्द  कर दिया गया हैं। भूस्खलन से जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग बंद है, और दोनों तरफ से हजारों वाहन फंसे हैं। हिमाचल प्रदेश में दो राष्ट्रीय राजमार्ग समेत 300 सड़कें बंद हैं। वहीं, उत्तराखंड में केदारनाथ धाम में साढ़े नौ फुट तक नई बर्फ जम चुकी है। मौसम विभाग के अनुसार शुक्रवार को भी बारिश और बर्फबारी हो सकती है।

जम्मू-कश्मीर में खराब मौसम की मार फिर हाईवे पर पड़ी है। जवाहर टनल पर हुई बर्फबारी और रामबन के अनोखी फाल क्षेत्र में भूस्खलन से जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग बंद रहा। इससे दोनों ओर हजारों वाहन फंस गए हैं। वैष्णो देवी के भवन के अलावा सांझीछत और भैरोघाटी में सफेद चादर बिछी। कटड़ा-सांझीछत चॉपर सेवा सुबह सिर्फ एक घंटे ही चल पाई।
श्रीनगर में दिन का पारा सामान्य से 6.1 डिग्री गिरकर 2.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। पहलगाम, गुलमर्ग, जोजिला, राजदान समेत घाटी के अधिकांश पर्वतीय इलाकों में बर्फबारी हुई है। लेह में तापमान माइनस 9.1, गुलमर्ग में माइनस 6.0, कोकरनाग में माइनस 2.8, पहलगाम में माइनस 2.7 और श्रीनगर में माइनस 0.3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

उधर, हिमाचल प्रदेश में कड़ाके की ठंड के बीच लाहौल-स्पीति, कुफरी और मनाली में ताजा हिमपात हुआ। इससे दो नेशनल हाईवे शिमला-रामपुर-किन्नौर और आनी-जलोड़ी-कुल्लू समेत 300 सड़कें बंद हो गई हैं। शिमला का संपर्क रोहड़ू, रामपुर और चौपाल से कट गया है। किन्नौर, लाहौल और चंबा का पांगी-भरमौर देश-दुनिया से कट गए हैं। रोहतांग में 60, मढ़ी में 40, सोलंगनाला में 15, कुफरी में 5 और मनाली में 3 सेंटीमीटर बर्फबारी हुई। केलांग में माइनस 15, कल्पा में माइनस 6.8, कुफरी में माइनस 1.0, डलहौजी में माइनस 0.2, मनाली में शून्य और शिमला में 3.8 डिग्री सेल्सियस तापमान रिकॉर्ड किया गया। उत्तरकाशी जिले में शीतकालीन अवकाश वाले 124 विद्यालयों में छुट्टियां खत्म होने के बाद भी स्कूल नहीं खुलेंगे। भीषण बर्फबारी से उपजे हालात को देखते हुए डीएम ने शासन से शीतकालीन अवकाश की अवधि सात दिन बढ़ाने की अनुमति मांगी है। चमोली जिले में दो दिनों तक धूप खिलने के बाद बृहस्पतिवार को ताजा हिमपात हुआ।

जिले में लगभग डेढ़ सौ गांव बर्फ से ढक गए हैं। जेसीबी से सड़कों से बर्फ हटाने का काम किया जा रहा था। रुद्रप्रयाग जिले में केदारनाथ में करीब साढ़े नौ फीट नई बर्फ जम चुकी है। द्वितीय केदार मद्महेश्वर, तृतीय केदार तुंगनाथ सहित चोपता, दुगलबिट्टा, गौंडार, रांसी, त्रियुगीनारायण, चौमासी, चिलौंड, हरियाली डांडा में बर्फबारी हुई है।

loading...
शेयर करें