CBSE पेपर लीक पर भड़के राज ठाकरे, कहा-अपने बच्चों को दोबारा पेपर न देने दें

नई दिल्ली। सीबीएसई पेपर लीक मामले में अब सियासत भी शुरू हो चुकी है। राहुल गांधी के बाद अब राज ठाकरे ने भी केंद्र सरकार पर निशाना साधा है। महाराष्‍ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) के अध्‍यक्ष राज ठाकरे ने पेपर लीक पर अपना गुस्सा जाहिर करते हुए पूरे देश के अभिभावकों से कहा कि वो अपने बच्चों को दोबारा परीक्षा न देने दें।

राज ठाकरे

राज ठाकरे ने कहा कि ये सरकार की विफलता है वो इसे स्वीकार करे। इसमें बच्चों की कोई गलती नहीं है। वे क्‍यों चाहते हैं कि छात्र दोबारा से परीक्षा दें? मैं देशभर के अभिभावकों से अनुरोध करता हूं कि वे अपने बच्चों को किसी भी स्थिति में पुन: परीक्षा के लिए बैठने न दें।

आपको बता दें पुलिस इस मामले में कार्रवाई कर रही है। 10 लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। सीबीएसई ने यह भी कहा है कि उसके अध्यक्ष को 10 वीं कक्षा का गणित का पेपर लीक होने के बारे में परीक्षा से एक दिन पहले एक ई-मेल मिला था। गणित और इकॉनोमिक की परीक्षा क्रमश: 28 मार्च और26 मार्च को हुई थी।

वहीँ विपक्ष इसे लेकर सरकार पर हमलावर है। राहुल गांधी ने भाजपा और आरएसएस पर हमला बोलते हुए अपने ट्वीट में लिखा कि सीबीएसई परीक्षा में पेपर लीक होने से लाखों छात्रों के भविष्य पर पानी फिर गया है। कांग्रेस ने हमेशा शैक्षणिक संस्थानों को सुरक्षित रखा है। ये तब हो रहा है जब बीजेपी-आरएसएस जैसे संगठन संस्थाओं को नष्ट करने में लगे है। मेरा विश्वास कीजिए ये तो अभी शुरुआत है।

कांग्रेस नेता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने आरोप लगाया कि एक ‘परीक्षा माफिया’ अंधाधुंध तरीके से अपना काम कर रहा है और जावडेकर पश्चिम बंगाल में राजनीतिक विरोधियों को निशाना बनाने में व्यस्त हैं। सुरजेवाला ने आरोप लगाया, मोदी सरकार के अंतर्गत सीबीएसई के साथ धांधली और भ्रष्टाचार के कई मामले हुए हैं।

Related Articles