राजस्थान के DGP अजीत सिंह ने संभाली BCCI भ्रष्टाचार विरोधी इकाई की कमान

नई दिल्ली। राजस्थान पुलिस के 30वें मुखिया अजीत सिंह ने भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के भ्रष्टाचार रोधी ईकाई (एसीयू) का मुखिया नियुक्त किया गया। फिलहाल उन्होंने अभी अपना पदभार नहीं संभाला है मगर आईपीएल-2018 से पहले अपना पदभार संभाल लेंगे। वह मुम्बई स्थित बीसीसीआई के मुख्यालय से काम करेंगे।

DGP

अजीत सिंह ने पुलिस मुख्यालय में पदभार ग्रहण कर लिया। इससे पहले पुलिस बैंड की स्वर लहरियों के बीच उनको गॉर्ड ऑफ ऑनर दिया गया। डीजीपी की कुर्सी पर बैठने के बाद उन्होंने पत्रकार वार्ता में पत्रकारों के सवालों का जवाब दिया। डीजीपी अजीत सिंह ने कहा कि हांलाकि चार महीने का ही कार्यकाल बचा है लेकिन इस पूरे समय में भी वे निष्ठा और लगन से काम करेंगे और उन्होंने इस बात का आश्वासन दिया कि मैच में किसी प्रकार का भ्रष्टाचार नहीं होने दूंगा।

1982 राजस्थान कैडर के आईपीएस अधिकारी सिंह 30 नवंबर 2017 को राजस्थान के पुलिस महानिदेशक पद से रिटायर हुए थे। इसके अलावा बीसीसीआई ने अपनी एसीयू के सलाहकार पूर्व दिल्ली कमिश्नर नीरज कुमार के कार्यकाल को 31 मई तक का विस्तार दे दिया है।

बीसीसीआई ने पिछली बार की तरह इस बार भी आईपीएल के आने वाले सीजन के लिए आईसीसी की भ्रष्टाचार रोधी ईकाई के साथ करार किया है। आईसीसी आईपीएल पर करीबी तौर से नजर रखेगी।

Related Articles