आरएसएस कार्यकर्ता की हत्या से भड़क उठे राजनाथ, कहा- राजनीतिक हिंसा बर्दाश्त नहीं

0

नई दिल्ली: केरल में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) कार्यकर्ता पर हुए हमलों पर चिंता जताते हुए केंद्र सरकार ने सख्त रुख अख्तियार किया है। केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने इस मामले को उठाते हुए केरल के मुख्यमंत्री पिनारायी विजयन से फोन पर चर्चा की।

राजनाथ सिंह ने ट्वीट किया, मैंने केरल में कानून व्यवस्था की स्थिति पर अपनी चिंता व्यक्त कर दी है। लोकतंत्र में राजनीतिक हिंसा अस्वीकार्य है। कल रात ही तिरुवनंतपुरम के पास एक हिस्ट्री-शीटर की अगुवाई में एक गिरोह ने एक संघ कार्यकर्ता की हत्या कर दी।

गृह मंत्री ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि केरल में राजनीतिक हिंसा रुकेगी और हमलावरों को जल्द न्याय के कठघरे में लाया जाएगा।

पुलिस ने बताया कि हमले में 34 साल के राजेश के बांये हाथ को काट दिया गया। घटना कल रात करीब नौ बजे की है। पुलिस के मुताबिक जांच शुरू हो गई है और हमलावरों की तलाश जारी है।

यह भी पढ़ें: ‘जय श्रीराम’ बोलते ही नीतीश कुमार के मंत्री पर गिरी गाज…

आपको बता दें कि केरल इकाई के भाजपा अध्यक्ष कुमानम राजशेखरन ने इस घटना आरोप माकपा पर लगाया है। उनका कहना है कि हमले के पीछे माकपा का हाथ है। वहीं माकपा के जिला नेतृत्व ने इस आरोप को सिरे से खारिज कर दिया है। भाजपा ने घटना का विरोध करते हुए रविवार को राज्यव्यापी हड़ताल का आह्वान किया है।

यह भी पढ़ें: जम्मू-कश्मीर : पुलवामा में सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़, दो आतंकी ढेर

वहीं, पुलिस की जांच में पता चला है कि केरल के त्रिवेंद्रम में हुई इस घटना के पीछे एक हिस्ट्रीशीटर की अगुवाई वाले गिरोह का हाथ है। पुलिस ने कहा कि हमले में 34 वर्षीय राजेश का बायां हाथ काट दिया गया, उसके शरीर पर धारदार हथियार से 15 वार किए गए। राजेश अस्पताल में भर्ती कराया गया लेकिन उसने वहां दम तोड़ दिया।

loading...
शेयर करें