भारत-चीन विवाद पर बोले राजनाथ सिंह, ‘अगर परिस्थिति बदली तो सेना तैयार’

नई दिल्ली: भारत और चीन के बीच बढ़ते विवाद को लेकर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने मानसून सत्र के दौरान राज्यसभा में बयान दिया। राजनाथ सिंह ने कहा कि दुनिया की कोई ताकत लद्दाख में भारतीय जवानों को पेट्रोलिंग करने से नहीं रोक सकती।

राजनाथ सिंह
राजनाथ सिंह

राज्यसभा में बोले राजनाथ सिंह

चीन के विवाद को लेकर राज्यसभा में रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि चीन के रवैए से पता चलता है कि वह दोनों देशों के समझौतों का सम्मान नहीं करता। चीन की सेना ने 1993 और 1996 के समझौते तोड़े हैं। उन्होंने यह भी कहा कि बॉर्डर पर शांति रखने के लिए एलएसी का सम्मान करना जरूरी है।”

लद्दाख में स्थिति गंभीर

वहीं लोकसभा में राजनाथ सिंह ने कहा था कि लद्दाख में स्थिति गंभीर है और चीन एलएसी की मौजूदा स्थिति को बदलने की कोशिश कर रहा है। राजनाथ सिंह ने सभी जानकारी देते हुए कहा कि हम इस विवाद को बातचीत से सुलझाना चाहते हैं, लेकिन अगर परिस्थिति बदली तो भारतीय सेना तैयार है।

चुनौती से पीछे नहीं हटेंगे

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने चीन के चेतावनी देते हुए कहा कि हम चीन की किसी भी कार्रवाई का जवाब देने के लिए तैयार हैं। हम किसी भी चुनौती से पीछे नहीं हटेंगे। चीन की हरकत की वजह से गलवान घाटी में युद्ध की स्थिति बनी है। लेकिन हम 130 करोड़ देशवासियों को भरोसा देता हूं कि देश का सिर झुकने नहीं देंगे।

ये भी पढ़े: मानसून सत्र: कोरोना महामारी को लेकर सदन में बोले केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री

Related Articles

Back to top button