साइबर अपराध को लेकर राजनाथ सिंह ने सुरक्षा बलों को आगाह किया

0

नई दिल्ली– बीते कुछ महीनों से साइबर अपराध जगत में अपराधियों के हौसले बुलंद होते जा रहे हैं। जिसमें सबसे ज्यादा ग्रामीण क्षेत्रों के लोग इनके शिकंजे में फंस रहे हैं। जानकारी के मुताबिक साइबर अपराधों में 40 प्रतिशत मामले आर्थिक फर्जीवाड़े और यौन शोषण से जुड़े होते हैं। इस पर राजनाथ सिंह चिंता जताते हुए कहा कि ने कहा कि देश में सोशल मीडिया और इंटरनेट का दुरुपयोग चिंता का विषय बन रहा है। साइबर अपराध से निपटने के लिए भारत ने अमेरिका, इजरायल, ऑस्ट्रेलिया, ब्रिटेन जैसे देशों से सहयोग बढ़ाया है।

गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि है कि साइबर जगत में हो रहे अपराध में हर साल 21 फीसदी की बढ़ोतरी हो रही है। उन्होंने सुरक्षा बलों के साथ हाल में हुई एक आंतरिक बैठक में नसीहत दी कि सुरक्षा बल भविष्य की इस बड़ी चुनौती के लिहाज से स्वयं को तैयार करें।

गृह मंत्रलय को मिली सीईआरटी-इन की रिपोर्ट का हवाला देते हुए गृहमंत्री ने कहा है कि कम्प्यूटर और इंटरनेट का प्रयोग जिस गति में बढ़ रहा है उसी गति से साइबर अपराध भी बढ़ रहा है। उन्होंने साइबर दुनिया में उग्रवादी व आतंकी गुटों की हरकत को लेकर भी सुरक्षा बलों को आगाह किया। गृहमंत्री ने भावी चुनौतियों को जिक्र करते हुए कहा कि उन्हें एक प्रभावी तंत्र बनाकर निगरानी करनी होगी। उन्होंने त्वरित प्रतिक्रिया के लिए भी तंत्र बनाने को कहा।

loading...
शेयर करें