राकेश टिकैत ने योगी सरकार को किया चैलेंज, अब लखनऊ को बनाएंगे दिल्ली

लखनऊ: केंद्र सरकार (central government) के कृषि कानूनों का कई दिनों से विरोध कर रहे किसान नेता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) आज सोमवार को यूपी की राजधानी लखनऊ पहुंचे। उन्होंने कहा जब तक कृषि कानूनों को वापस नहीं लिया जाता है, तब तक आंदोलन चलता रहेगा। लखनऊ यूपी प्रेस क्लब में किसान यूनियन के नेता राकेश टिकैत (Rakesh Tikait) ने पत्रकारों से वार्ता के दौरान बताया कि यूपी हमेशा आंदोलन का प्रदेश रहा है। मूंग के किसानों ने 3 हजार रूपए सस्ती फसल बेची।

आलू का किसान बरबाद हुआ है गन्ना किसानों का 12 हजार करोड़ का भुगतान बाकी है। पिछली सरकारों में आंदोलन के बाद रेट बढ़ता रहा लेकिन इस सरकार ने कुछ नहीं बढ़ाया। यूपी में किसानों को सबसे महंगी बिजली मिलती है।

पूरे देश मे बढ़ाएंगे आंदोलन

राजधानी लखनऊ पहुंचे राकेश टिकैत ने कहा कि हम आखिर लखनऊ क्यों नहीं आ सकते हैं। अब हम लखनऊ को भी दिल्ली बनाएंगे और इसे भी घेरेंगे। 5 सितंबर को मुज्जफरनगर बड़ी पंचायत कर आंदोलन की शुरुआत करेंगे। संयुक्त मोर्चा ने 8 महीने आंदोलन करने के बाद ये फैसला लिया है कि यूपी यूके के साथ पूरे देश में इस आंदोलन को बढ़ाएंगे। जब तक ये सब कानून वापस नहीं होते तब तक किसान आंदोलन वापस नहीं होगा। लखनऊ को भी दिल्ली बना देंगे लखनऊ के चारों तरफ के रास्तों का भी वही हाल होगा जो दिल्ली में हुआ है।

बीजेपी पर बोला हमला

उन्होंने कहा, ”ट्रेनों को रोककर रखा गया है, नहीं तो आज यहां भी भीड़ होती। किसान कुछ भी कर सकते हैं, देश की हर राजधानी को दिल्ली बनाएंगे।” बीजेपी पर हमला बोलते हुए किसान टिकैत ने कहा कि बीजेपी भी तीन तरह की है, एक मकान के अंदर कैद, दूसरी छीनी हुई है तो तीसरी दूसरे लोगों को भर्ती करने वाली है। इनके नेता खुद नहीं कुछ बोल सकते हैं।

 

 

Related Articles