कास्टिंग काउच पर आवाज़ उठाने वाली एक्ट्रेस की राम गोपाल वर्मा ने की तारीफ

मुंबई। यूं तो फिल्म इंडस्ट्री में कास्टिंग काउच एक गंभीर मुद्दा है। चाहे वह बॉलीवुड हो या साउथ इंडस्ट्री इस मुद्दे के खिलाफ अब हर कोई बोलने लगा है। कहा जाता है कास्टिंग काउच का शिकार सिर्फ एक्ट्रेस ही नहीं बल्कि एक्टर भी होते हैं। इसी सिलसिले में इसका विरोध करने के लिए तेलुगू एक्ट्रेस श्री रेड्डी ने हाल ही में इसका विरोध किया है। खैर, पता नहीं यह विरोध या लगाए गए आरोप कितने सही हैं और कितने झूठ।

श्री रेड्डी ने कहा कि अभिराम तेलुगू फिल्म इंडस्ट्री पर राज करने वाले एक शीर्ष निर्माता का बेटा है और इसलिए वो जो चाहे कर सकता है। उनके इस विरोध को देखते हुए फिल्म मेकर रामगोपाल वर्मा का कहना है कि हैदराबाद में न्यूड होकर विरोध प्रदर्शन करने के बाद अभिनेत्री बनने की इच्छा रखने वाली श्री रेड्डी ‘नेशनल सेलेब्रिटी’ बन गई हैं।

हाल ही में फिल्म मेकर रामगोपाल वर्मा ने उन्हें झांसी की रानी कहा है और साथ ही कहा है मैं श्री रेड्डी को सेल्यूट करता हूं क्योंकि इतने सालों में वह अकेली ऐसी इंसान है जिसने कास्टिंग काउच के खिलाफ खुल कर बात रखी है। जिन लोगों को लगता है कि श्री रेड्डी ने इस तरह का प्रदर्शन कर के गलत किया वो इस बात से इंकार नहीं कर सकते कि उनके इस प्रदर्शन से ही राष्ट्रीय और अंतराष्ट्रीय समुदायों को झटका लगा है।

मुझे लगता है हमें उनपर गर्व करना चाहिए। यह उनके बहादुरी भरे कदम जो शायद आज के समय में बहुत कम देखने को मिलते हैं। बहुत कम लोगों में हिम्मत होती है कि वह इन बातों को या ऐसे चेहरों को सामने लेकर आए।

ट्वीट करते हुए उन्होंने लिखा, जिस तरह रानी लक्ष्मीबाई ने अपनी तलवार का इस्तेमाल कर अपने साम्राज्य को बचाया था उसी तरह श्री रेड्डी ने इंडस्ट्री में कास्टिंग काउच के खिलाफ आवाज उठाते हुए अपनी बॉडी का हथियार के तौर पर इस्तेमाल किया और यह उनकी एक ऐतिहासिक जीत है।

Related Articles